Moneycontrol » समाचार » राजनीति

चेन्नई समुद्र किनारे मोदी का स्वच्छता अभियान, ममल्लापुरम बीच पर की सफाई

चेन्नई में मौजूद प्रधानमंत्री मोदी ने आज ममल्लापुरम बीच पर कचरा बटोरा और एक बार फिर देशवासियों के लिए एक उदाहरण पेश किया।
अपडेटेड Oct 13, 2019 पर 14:15  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

शी जिनपिंग के साथ अनौपचारिक मुलाकात के लिए चेन्नई में मौजूद प्रधानमंत्री मोदी ने आज ममल्लापुरम बीच पर कचरा बटोरा और एक बार फिर देशवासियों के लिए एक उदाहरण पेश किया। वो आज सुबह जॉगिंग करने बीच पर आए थे। प्रधानमंत्री ने दिखाया कि स्वच्छ भारत के लिए वो सिर्फ देश के लोगों से ही अपील नहीं करते, बल्कि एक ब्रांड एंबैसेडर की तरह आगे बढ़कर इसकी पहल करते हैं। वो साफ-सफाई के लिए लोगों का प्रेरणा स्रोत बनने का मौका वो कभी नहीं छोड़ते हैं।


मोदी और जिनपिंग में दिखी शानदार केमिस्ट्री


इसके पहले चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग दो दिन के लिए भारत आए, तो दोनों नेताओं के बीच की गर्मजोशी ने दिखाया कि ये दो देश के नेताओं की नहीं दो पुराने दोस्तों की मुलाकात है। इस अनौपचारिक मुलाकात के लिए चेन्नई के महाबलीपुरम में जोरदार तैयारी थी। महाबलीपुरम में दो महाबली की मुलाकात के इस मेगा शो पर सबकी नजरें टिकी रहीं। प्रधानमंत्री मोदी खास तमिल परिधान में नजर आए। दोनों महाबली में शानदार केमिस्ट्री दिखी।


दोनों महाबली ने उठाया नारियल पानी का लुत्फ


प्रधानमंत्री मोदी और शी जिनपिंग ने दक्षिण भारत के रसीले नारियल के पानी का लुत्फ उठाया। जब दोनों नेता हाथ मिला रहे थे तो महाबलियों के बीच की गर्मजोशी देखने लायक थी। दोनों नेताओं ने शाम को लंबा वक्त साथ में बिताया। शी जिनपिंग के स्वागत में एक रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी किया गया। ये कार्यक्रम शोर मंदिर के प्रांगण में हुआ। इससे पहले PM मोदी ने शी जिनपिंग को इस मंदिर के अलग-अलग हिस्से दिखाए और उसकी ऐतिहासिकता भी बताई।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।