Moneycontrol » समाचार » राजनीति

महाराष्ट्र में सरकार पर गतिरोध, पवार से मुलाकात के बाद बदले शिवसेना के सुर

महाराष्ट्र में सरकार कब बनेगी इस सवाल का जवाब मिलता दिख नहीं रहा।
अपडेटेड Nov 04, 2019 पर 10:27  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

महाराष्ट्र में सरकार कब बनेगी इस सवाल का जवाब मिलता दिख नहीं रहा। मुख्यमंत्री के सवाल को लेकर शिवसेना अड़ी हुई है। शिवसेना ने सामना में लिखा है कि सरकार बनाने की कोई जल्दबाजी नहीं है। पार्टी ने BJP को सरकार बनाने की चुनौती दी है। शिवसेना ने राष्ट्रपति शासन लगाने की चेतावनी को अलोकतांत्रिक और असंवैधानिक बताया है। उधर हमें सूत्रों से खबर मिल रही है कि BJP, शिवसेना को डिप्टी सीएम का पद देने को तैयार है लेकिन इसके बाद भी बात नहीं बन रही। क्योंकि फिफ्टी-फिफ्टी फॉर्मूले को लेकर शिवसेना झुकने को तैयार नहीं है।


उधर आज दिल्ली में सोनिया गांधी और शरद पवार की मुलाकात होनी है लेकिन इस बीच कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने साफ किया है कि कांग्रेस ने अभी तक सरकार बनाने के लिए किसी भी दल से कोई चर्चा नहीं की है। खडगे के मुताबिक कांग्रेस का प्रयास विपक्ष में रह कर जनता की समस्या सुलझाने की होगी। कांग्रेस नेता खड़गे ने आरोप लगाया है कि बीजेपी सत्ता हासिल करने के लिए कुछ भी कर सकती है।


इस बीच कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने अपने पार्टी आलाकमान को सलाह दी है कि उन्हें बीजेपी और शिवसेना के झगड़े में नहीं पड़ना चाहिए। संजय निरुपम के मुताबिक शिवसेना और बीजेपी के बीच फर्जी लड़ाई का नाटक चल रहा है और कांग्रेस को इससे दूर रहना चाहिए। संजय निरुपम ने दावा किया है कि अगर कांग्रेस शिवसेना से हाथ मिलाती है तो ये आत्मघाती कदम होगा।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।