Moneycontrol » समाचार » राजनीति

अमित शाह ने कहा, NRC पूरे देश में लागू होगा, इससे डरने की जरूरत नहीं

अमित शाह ने कहा, यह सिर्फ एक प्रक्रिया है ताकि सभी लोग NRC के दायरे में आ जाएं
अपडेटेड Nov 21, 2019 पर 08:56  |  स्रोत : Moneycontrol.com

होम मिनिस्टर अमित शाह ने राज्य सभा में आज जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर जानकारी दी। उन्होंने सभा को बताया कि जम्मू-कश्मीर में हालात सामान्य हैं। उन्होंने कहा, "मैं इस बात का भी भरोसा दे सकता हूं कि 5 अगस्त से अब तक पुलिस फायरिंग में किसी की मौत नहीं हुई है। इसके साथ ही पत्थरबाजी की घटनाओं में भी कमी आई है।"


अमित शाह ने आगे बताया कि जम्मू-कश्मीर में सभी उर्दू, अंग्रेजी अखबार और न्यूज चैनल काम कर रहे हैं। बैंकिंग सर्विस भी ठीक से चल रही है। सभी सरकारी दफ्तर और कोर्ट खुल चुके हैं। जम्मू-कश्मीर में ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल के चुनाव भी हुए हैं जिसमें 98.3 फीसदी वोटिंग हुई है।


उन्होंने यह भी बताया कि पेट्रोल, डीजल, केरोसिन, LPG और चावल की आपूर्ति पर्याप्त है। अमित शाह ने यह भी बताया कि दवाओं की भी उपलब्धता है।


5 अगस्त को अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटा दिया। इसकी वजह से जम्मू-कश्मीर को स्पेशल राज्य का दर्जा मिला था। इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर को दो हिस्सों में बांटकर इसके राज्य होने का दर्जा भी खत्म कर दिया था। अब जम्मू-कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश है। इसका दूसरा हिस्सा लद्दाख है जो अब केंद्रशासित प्रदेश है।


NRC के मुद्दे पर क्या कहा अमित शाह ने?


होम मिनिस्टर अमित शाह ने राज्य सभा में बताया कि जिन लोगों के नाम नेशनल रजिस्ट्री ऑफ सिटिजंस (NRC) में नहीं है वो तहसील स्तर पर बने ट्राइब्यूनल से संपर्क कर सकते हैं। अगर किसी के पास इतने पैसे नहीं हैं कि वह ट्राइब्यूनल से संपर्क कर सके तो असाम सरकार उनकी मदद करेगी। जिन लोगों के पास पैसा नहीं है उनके लिए वकील का खर्च असाम सरकार उठाएगी।


अमित शाह ने कहा कि पूरे देश में NRC की प्रक्रिया लागू की जाएगी। किसी भी धर्म के लोगों को चिंता करने की जरूरत नहीं है। यह सिर्फ एक प्रक्रिया है ताकि सभी लोग NRC के दायरे में आ जाएं।


NRC की निगरानी सुप्रीम कोर्ट कर रहा है। किसी भी खास धर्म के लोगों को जानबूझकर टारगेट नहीं किया जाएगा। हम सभी धर्मों के लोगों को शरण देंगे।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।