Moneycontrol » समाचार » राजनीति

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले- 'आपकी बात नहीं सुनते अधिकारी तो उन्हें बेंत से मारिए'

RJD ने कहा कि यह सरकार चल रही है या महाजंगलराज चल रहा है?
अपडेटेड Mar 08, 2021 पर 09:13  |  स्रोत : Moneycontrol.com

केंद्रीय मंत्री और BJP सांसद गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) एक बार फिर अपने विवादित बयानों की वजह से सुर्खियों में हैं। गिरिराज सिंह ने शनिवार को अपने लोकसभा क्षेत्र बेगूसराय (Begusarai) के लोगों को सुझाया कि अगर कोई अधिकारी उनकी बात नहीं सुनता है तो उसे बेंत से मारिए। अपने बेबाक बयानों के लिए चर्चा में रहने वाले भारतीय जनता पार्टी (BJP) के फायरब्रांड नेता यहां खोदवांपुर में स्थित कृषि संस्थान में एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।


मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी विभाग के मंत्री ने कहा कि उन्हें अक्सर शिकायत मिलती है कि अधिकारी जनता की शिकायतों पर कान नहीं धरते हैं। सिंह ने कहा कि मैं उनसे कहना चाहता हूं कि इतनी छोटी बात के लिए मेरे पास क्यों आते हैं। सांसद, विधायक, गांव के मुखिया, डीएम, एसडीएम, बीडीओ… इन सभी का कर्तव्य जनता की सेवा करना है। अगर वे आपकी बात नहीं सुनते हैं तो दोनों हाथ से बेंत उठाइए और उनके सिर पर दे मारिए।


दरअसल, बेगूसराय में एक सभा के दौरान एक शख्स ने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह से सीओ की शिकायत की थी। इस पर गिरिराज सिंह गुस्से में आ गए। इस दौरान उन्होंने ने मंच से ही जनता को संबोधित करते हुए कहा कि अधिकारी बात नहीं सुनते हैं तो उठाइए और पिटाई कर दीजिए। ऐसे में गिरिराज सिंह के इस बयान के बाद बिहार की सियासत में भूचाल आ गया है। गिरिराज सिंह के बयान को लेकर बिहार की मुख्य विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल यानी RJD ने नीतीश सरकार पर हमला बोला है।


RJD ने कहा कि यह सरकार चल रही है या महाजंगलराज चल रहा है? RJD ने अपने ट्वीट कहा है कि एक तरफ नीतीश कुमार जी युवाओं से कहते हैं कि सरकार या अधिकारी का विरोध करोगे, धरने पर बैठोगे या सोशल मीडिया पर लिखोगे तो जेल भेज देंगे। नौकरी नहीं लेने देंगे! दूसरी तरफ सनकी गिरिराज सिंह कहते हैं अधिकारियों को बांस उठाकर मारो! यह सरकार चल रही है या #महाजंगलराज चल रहा है? वहीं, कांग्रेस नेता पीएल पुन‍िया ने कहा क‍ि यह आपराधिक कृत्य है और इसको प्रोत्साहित करने वाला व्यक्ति और जो करेगा वह सब अपराधी हैं। उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाना चाहिए।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।