Moneycontrol » समाचार » राजनीति

250th RajyaSabha Session: जानिए पीएम मोदी ने क्यों की NCP और BJD की तारीफ

सोमवार से संसद का शीतकालीन सत्र शुरू हो चुका है, खास बात यह है कि आज राज्यसभा का 250वां सत्र है
अपडेटेड Nov 19, 2019 पर 08:56  |  स्रोत : Moneycontrol.com

सोमवार से संसद का शीतकालीन सत्र शुरू हो चुका है। आज से लोकसभा और राज्यसभा में काम शुरू हो रहा है। खास बात यह है कि आज राज्यसभा का 250वां सत्र है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस मौके पर उच्च सदन को संबोधित कर रहे हैं। उन्होंने अपने संबोधन के शुरूआत के साथ ही पीएम ने सदन के सांसदों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि वह भाग्यशाली हैं कि वो इस अवसर के साक्षी बन रहे हैं।


उन्होंने कहा कि संविधाननिर्माताओं ने जो व्यवस्था दी है, वो कितनी उपयुक्त है। निचला सदन जमीन से जुड़ा हुआ है, वहीं उच्च सदन ऊपर है, दूर की देख सकता है। पीएम ने कहा कि इस सदन ने कई ऐतिहासिक क्षण देखे हैं। यहां विचार की यात्रा हुई है। यह सत्र भारत के विकास की निशानी है। यह हमारे लोकतंत्र के लिए गौरव का क्षण है।


पीएम ने डॉ. अंबेडकर को याद करते हुए कहा कि वो राज्यसभा के जरिए संसद में आए। उन्होंने कहा कि देश में ऐसा लंबा वक्त था, जब विपक्ष जैसा कुछ नहीं था, विरोधभाव बहुत ज्यादा नहीं था, लेकिन उस वक्त भी इस सदन में बैठे लोगों ने निरंकुशता नहीं फैलने दी। पीएम ने कहा कि वो खुद को सौभाग्यशाली मानते हैं कि इस सदन के जरिए उन्हें लोगों को सुनने, समझने और नई चीजें सीखने का मौका मिला है।


पीएम ने कहा कि जब भी देश के सुधार की बात आई है, राज्यसभा मौके पर आगे रहा है। यही सदन देश की दिशा तय करता है। उन्होंनॆ तीन तलाक बिल को याद करते हुए कहा कि इसी सदन की मैच्योरिटी की वजह से महिला सशक्तिकरण का यह बिल पास हुआ है। उन्होंने GST बिल के पास होने और धारा 370 को हटाने की बात भी सदन को याद दिलाई।


पीएम मोदी ने शरद पवार की नेशनल कांग्रेस पार्टी और नवीन पटनायक की बीजू जनता दल की तारीफ भी की। उन्होंने कहा कि यही दोनों पार्टियां हैं, जिन्होंने कभी संसदीय नियमों को नहीं तोड़ा है। यहीं दोनों पार्टियां हैं, जो कभी वेल (पीठाधिकारी की सीट के पास की जगह) कभी नहीं गए, लेकिन फिर भी अपना मुद्दा पूरे प्रभाव के साथ उठाया है। मेरी पार्टी सहित दूसरी पार्टियां भी उनसे सीख सकती हैं।


पीएम मोदी ने सत्र शुरू होने से पहले मीडिया को संबोधित किया था, जिसमें उन्होंने इस सत्र में जरूरी बहसों और काम होने की आशा जताई। उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि यह सत्र देश को और आगे ले जाएगा। पीएम ने कहा कि इस सत्र में बेझिझक, बेबाक बहस होनी चाहिए।




सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।