Moneycontrol » समाचार » राजनीति

लोकसभा नतीजों से पहले चुनावी सरगर्मियां बढ़ीं

प्रकाशित Tue, 21, 2019 पर 11:27  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

लोकसभा चुनाव की मतगणना से पहले राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ गई हैं। एक तरफ तो नतीजों के बाद की रणनीति पर चर्चा के लिए BJP अध्यक्ष अमित शाह ने NDA के सहयोगियों को डिनर पर बुलाया है, वहीं दूसरी तरफ एग्जिट पोल नतीजों से सहमा विपक्ष VVPAT के मुद्दे पर चुनाव आयोग से मिलने वाला है।


एग्जिट पोल के अनुमान से जोश में आई BJP भी सरकार बनाने को लेकर एक्टिव हो गई है आज बीजेपी संसदीय दल की मीटिंग है। तो वहीं NDA के सहयोगियों को अमित शाह ने एक डिनर में बुलाया है। इसमें PM मोदी के मौजूद रहने की भी संभावना है। इसमें नीतीश कुमार, शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे और लोक जनशक्ति पार्टी के रामविलास पासवान भी मौजूद रहेंगे। डिनर पर सरकार बनाने की रणनीति पर चर्चा होगी।


उधर एग्जिट पोल से सहमा विपक्ष चुनाव आयोग के साथ बैठक करने वाला है। VVPAT के मुद्दे पर चुनाव आयोग से विपक्ष की मुलाकात होगी।21 विपक्षी दल चुनाव आयोग से मिलेंगे।


चुनाव और एग्जिट पोल के बाद एक बार फिर EVM का शोर है। विपक्ष ने EVM और वोटों की गिनती में गड़बड़ी की आशंका जताई है। विपक्ष का आरोप है कि चुनाव आयोग BJP के इशारे पर काम कर रहा है। 5 बूथों के वोट का VV पैट से मिलान करने को विपक्ष नाकाफी मानता है। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने कहा है कि विपक्ष के नेता इस मुद्दे पर भी रणनीति बनाएंगे और आयोग से मांग की जाएगी कि वोटों की गिनती में पारदर्शिता और जवाबदेही तय की जाए। उन्होंने सभी वोटों के VV पैट के मिलान पर आयोग के टालमटोल को शक की वजह बताया है।


उधर कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा है कि BJP ने चुनाव में सरकारी तंत्र और चुनाव आयोग की शक्तियों का गलत इस्तेमाल किया है। उन्होंने कहा कि देश की भावना मोदी के खिलाफ है, फिर भी मोदी जीतेंगे तो ये सिस्टम पर बड़ा प्रश्नचिह्न होगा। वहीं, NCP प्रमुख शरद पवार ने एग्जिट पोल के नतीजों को नौटंकी बताया है। उन्होंने कहा 23 मई को सच पता चल जाएगा।