Moneycontrol » समाचार » राजनीति

सिद्धू के सलाहकारों को पंजाब CM अमरिंदर सिंह की नसीहत, 'कश्मीर-पाकिस्तान के मामलों पर न बोलें'

पिछले दिनों सिद्धू को पंजाब की कमान मिलने के बाद पार्टी के अंदर जारी आपसी कलह समाप्त हो गया था
अपडेटेड Aug 23, 2021 पर 08:59  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) ने कश्मीर और पाकिस्तान के मुद्दों पर हाल ही में प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष बनाए गए नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के दो सलाहकारों द्वारा की गई हालिया टिप्पणियों पर कड़ी आपत्ति जताई है। सीएम ने जम्मू-कश्मीर और पाक पर की गई हालिया टिप्पणी को देश की शांति बिगाड़ने वाला बताते हुए ऐसे संवेदनशील मुद्दों पर मुंह बंद रखने की नसीहत दी है।


हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक, कैप्टन ने पंजाब कांग्रेस चीफ सिद्धू के सलाहकारों को हिदायत देते हुए कहा है कि वो उन्हें सलाह देने तक सीमित रहें।  सीएम ने सलाहकारों को नसीहत देते हुए कहा कि जिन मुद्दों को आप नहीं जानते हैं उन पर बोलने से गुरेज करें, नहीं तो बात का बतंगड़ बन सकता है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा के लिहाज से भी ऐसे मसलों पर बोलना गलत है।


सिद्धू ने कैप्टन अमरिंदर सिंह से की मुलाकात, पार्टी और सरकार के बीच समन्वय के लिए कमेटी का ऐलान


सिद्धू के सलाहकार प्यारे लाल गर्ग (Pyare Lal Garg) ने हाल ही में कैप्टन अमरिंदर सिंह की पाकिस्तान की आलोचना पर सवाल उठाया था। उन्होंने कहा था कि कैप्टन द्वारा पाकिस्तान की कोई भी आलोचना पंजाब के हित में नहीं है। गर्ग बाबा फरीद यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंसेज के पूर्व रजिस्ट्रार हैं। गर्ग से पहले सिद्धू के अन्य सलाहकार मलविंदर सिंह माली ने भी कश्मीर को लेकर विवादित बयान दिया था।


सीएम ने सिद्धू के दोनों सलाहकारों के बयानों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए उन्हें कम बोलने की चेतावनी दी है। कैप्टन ने कश्मीर और पाकिस्तान जैसे मुद्दों पर सिद्धू के सलाहकारों की कथित गलत बयानी के खिलाफ नसीहत दी है।


काबुल एयरपोर्ट पर भगदड़ में अफगानिस्तान के 7 लोगों की मौत, ब्रिटेन रक्षा मंत्रालय ने दी जानकारी


कैप्टन अमरिंदर सिंह के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल ने ट्विटर कर लिखा कि सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकारों के कश्मीर और पाकिस्तान पर दिए गए बयानों को खारिज किया है, क्योंकि ये घटिया और स्पष्ट रूप से राष्ट्रविरोधी है, जो पंजाब और देश की शांति बिगाड़ सकते हैं।


ठुकराल ने आगे कहा कि पंजाब कांग्रेस प्रमुख से कहा कि इसस पहले कि वे देश के हितों को और अधिक नुकसान पहुंचाएं, उनपर लगाम लगाएं। उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा कि प्यारे लाल गर्ग और मलविंदर माली पंजाब अध्यक्ष को सलाह देने के लिए डटे रहें, लेकिन संवेदनशील राष्ट्रीय मुद्दों पर न बोलें, जिनके बारे में आपको बहुत कम या कोई जानकारी नहीं है या फिर उसके प्रभाव के बारे में कोई जानकारी नहीं है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।