Moneycontrol » समाचार » राजनीति

Punjab Crisis: कांग्रेस आलाकमान ने अमरिंदर सिंह से मांगा इस्तीफा, कैप्टन ने दी पार्टी छोड़ने की धमकी

अरिंदर सिंह की दो टूक शब्दों में कहा अगर इस तरह से लगातार उन्हें जलील किया गया, तो वे कांग्रेस से कर लेंगे किनारा
अपडेटेड Sep 18, 2021 पर 18:17  |  स्रोत : Moneycontrol.com

दिल्ली में कांग्रेस (Congress) नेतृत्व ने कथित तौर पर मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) से इस्तीफा देने और पंजाब में एक नए नेता के चुनाव का रास्ता निकालने के लिए कहा है। सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने 18 सितंबर को शाम को होने वाली कांग्रेस विधायक दल (CLP) की बैठक से कुछ घंटे पहले मुख्यमंत्री से बात की थी। सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री को पद से शालीनता से इस्तीफा देने को कहा गया है। इस पर अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।


द हिंदू की एक रिपोर्ट में एक नेता के हवाले से कहा गया, "हाईकमान एक जाट सिख (नवजोत सिंह सिद्धू) को पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में स्थापित करने के बाद, एक हिंदू नेता को मुख्यमंत्री के रूप में स्थापित करने की कोशिश कर रहे हैं।"


रिपोर्ट के मुताबिक, अमरिंदर सिंह ने प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया और पार्टी प्रमुख को सूचित किया कि वह इसके बजाय पार्टी से इस्तीफा दे देंगे। सूत्रों के मुताबिक, पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़, जो कभी मुख्यमंत्री के सहयोगी रहे हैं, शीर्ष पद के लिए उनका नाम चर्चाओं में है।


मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की सोनिया गांधी को दो टूक शब्दों में कहा अगर इस तरह से लगातार उन्हें जलील किया जाएगा, तो वे कांग्रेस पार्टी से ही किनारा कर लेंगे। अटकलें है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह आज ही कांग्रेस पार्टी भी छोड़ सकते हैं।


नवजोत सिंह सिद्धू के खेमे के नेता और पंजाब कांग्रेस के महासचिव परगट सिंह का कहना है कि कांग्रेस आलाकमान की तरफ से मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से इस्तीफा मांगा गया है या नहीं इसकी जानकारी उन्हें नहीं है।


वहीं कांग्रेस नेता सुनील जाखड़ ने पंजाब में मौजूदा संकट के समाधान के लिए राहुल गांधी को बधाई दी है। ये ट्वीट आज CLP की बैठक से पहले आया है, जहां पंजाब कांग्रेस को लेकर एक महत्वपूर्ण घोषणा की जा सकती है।


चंडीगढ़ के स्थानीय मीडिया हल्कों में खबर ये भी है कि कैप्टन अगर 54 विधायकों को अपने पक्ष में नहीं कर पाए, तो वे इस्तीफा दे देंगे। न्यूज एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से बताया कि CLP की बैठक से पहले पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आज दोपहर 2 बजे पार्टी विधायकों की बैठक बुलाई। इससे साफ होता है कि शायद मुख्यमंत्री विधायकों को इकट्ठा कर, अपने पक्ष में करने के लिए ये बैठक बुला रहे हैं।