Moneycontrol » समाचार » राजनीति

राफेल पर संसद में फिर सियासी बवाल

प्रकाशित Wed, 02, 2019 पर 16:41  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आज एक बार फिर संसद में राफेल का मुद्दा गरमाया। दरअसल राफेल को लेकर एक कथित टेप सामने आने के बाद पहले कांग्रेस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके ये बताने की कोशिश की कि राफेल में अभी भी कुछ है जो छिपाया जा रहा है। हालांकि उस टेप की पुष्टि नेटवर्क 18 नहीं करता है। लेकिन इस टेप के बाद ही कांग्रेस ने मोदी सरकार पर हमला तेज किया और लोकसभा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर हमला बोला। उन्होंने उस टेप को सदन में चलाने की इजाजत भी मांगी लेकिन स्पीकर ने ऐसा नहीं करने दिया। इसके बाद लोकसभा में भारी हंगामा हुआ।


राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार राफेल को लेकर झूठ बोल रही है। राहुल ने फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद के बयान का हवाला देकर कहा कि ऑफसेट पार्टनर चुनने को लेकर पीएम मोदी ने फ्रांस के सामने अंबानी का नाम रखा था और प्रधानमंत्री को इस पर सफाई देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि डिफेंस मिनिस्ट्री के अफसरों ने खुद कहा है कि प्रधानमंत्री को राफेल समझौते में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए।


वहीं राहुल के आरोपों पर पलटवार करते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि राहुल गांधी बार बार झूठ बोल रहे हैं और उनको सच से कोई लेना देना नहीं है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट इस मामले में सच साफ कर चुका है। फ्रांस के राष्ट्रपति और राहुल के बीच हुई बातचीत झूठ है। झूठी ऑडियो टेप चलाकर गुमराह कर रहे हैं। संसद में इस तरह ऑडियो चलाने की प्रक्रिया नहीं। राहुल पहले टेप की जिम्मेदारी ले फिर सुनाएं।