Moneycontrol » समाचार » राजनीति

सैम पित्रोदा के बयान पर राहुल गंभीर, कहा माफी मागें पित्रोदा

प्रकाशित Sat, 11, 2019 पर 12:08  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

84 के दंगों को लेकर कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा के बयान को राहुल गांधी ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने फेसबुक पर पोस्ट लिखकर पित्रोदा के बयान से पार्टी को अलग किया और उनसे मांफी मांगने के लिए कहा है। राहुल ने कहा कि 1984 का सिख दंगा आहत करने वाला था। इस घटना के गुनाहगारों के खिलाफ कार्रवाई हुई है। हम इस नरसंहार का समर्थन नहीं करते हैं। इससे पहले कांग्रेस ने पित्रोदा के बयान से खुद को अलग कर लिया था। कांग्रेस ने कहा कि वो किसी भी दंगे या सांप्रदायिक हिंसा के खिलाफ है और इसको स्वीकार नहीं करती। कांग्रेस सिख दंगों के पीड़ितों के साथ है और उन्हें न्याय दिलाने की पूरी कोशिश कर रही है।


उधर सैम पित्रोदा के बयान पर सियासी घमासान मच गया। दरअसल पित्रोदा ने 84 दंगों पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में ये कह दिया था कि 84 में जो हुआ वो हुआ। अब मोदी जी बताएं कि वो क्या कर रहे हैं। इस बयान को BJP ने आड़े हाथों लिया। प्रधानमंत्री मोदी से लेकर BJP के सभी बड़े नेता पित्रोदा पर हमलावर हो गए। प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस की मानसिकता पर तो सवाल उठाए ही, साथ ही उन्होंने राजीव गांधी की पुरानी बात भी याद दिलाई।