Moneycontrol » समाचार » राजनीति

दिल्ली में कांग्रेस की भारत बचाओ रैली, मोदी सरकार को घेरने की कोशिश

दिल्ली के रामलीला मैदान में आज कांग्रेस भारत बचाओ रैली कर रही है।
अपडेटेड Dec 15, 2019 पर 13:35  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

दिल्ली के रामलीला मैदान में आज कांग्रेस भारत बचाओ रैली कर रही है। इस रैली के जरिए कांग्रेस की मोदी सरकार को घेरने की तैयारी है। कांग्रेस महंगाई से लेकर कई दूसरे मुद्दों पर केंद्र सरकार  पर निशाना साध रही है। नागरिक संशोधन कानून का भी विरोध कर रही है। रैली में अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, वरिष्ठ नेता और कार्यकर्ता शामिल हैं।


रैली को संबोधित करते हुए गांधी परिवार ने मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया। जहां सोनिया गांधी ने अत्याचार के खिलाफ देश से संघर्ष करने की अपील की तो वहीं राहुल गांधी ने साफ कहा कि रेप से जुड़े बयान पर वो किसी से माफी नहीं मांगेगे। प्रियंका गांधी ने खराब अर्थव्यवस्था पर सरकार को घेरा।


नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ सरकार पर निशाना साधते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि विभाजनकारी कानून से देश खतरे में है। उन्होंने अन्याय के खिलाफ लोगों से एकजुट होकर लड़ने की अपील की। उन्होंने अर्थव्यवास्था के मोर्चे पर भी मोदी सरकार को घेरने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि BJP राज में रोजगार रोज घट रहे हैं। छोटे व्यापारी GST से जूझ रहे हैं। BJP राज में महंगाई लगातार बढ़ रही है। विभाजनकारी कानून से देश खतरे में है। देश में हो रहे अत्याचार को हमें रोकना है।


 


BJP प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा ने राहुल गांधी पर पलटवार किया है। राहुल के सावरकर वाले बयान पर उन्होंने कहा कि राहुल गांधी का नाम राहुल जिन्ना होना चाहिए, ना कि राहुल सावरकर। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी की तुष्टीकरण की राजनीति और मानसिकता सावरकर से नहीं मिलती है, बल्कि वो जिन्ना के वसीयतदार नजर आते हैं, इसलिए उनका नाम राहुल जिन्ना होना चाहिए। वहीं संबित पात्रा ने कहा कि राहुल गांधी अगर हजार जनम भी ले ले तो वीर सावरकर नहीं बन सकते हैं।


 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।