Moneycontrol » समाचार » राजनीति

उत्तर प्रदेश उपचुनाव में बीजेपी को तगड़ा झटका

प्रकाशित Wed, 14, 2018 पर 19:11  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

2019 के आम चुनाव से पहले विपक्ष को यूपी औऱ बिहार में उपचुनावों जीत का बड़ा बूस्टर मिल गया है। उत्तर प्रदेश के फूलपुर और गोरखपुर में हुए उपचुनाव में बीजेपी को तगड़ा झटका लगा है। दोनों वीआईपी सीटों पर समाजवादी पार्टी के प्रत्याशियों को जीत मिली है। फूलपुर में एसपी कैंडिडेट नागेन्द्र पटेल ने लगभग 60 हजार वोटों से जीत दर्ज की। गोरखपुर में भी एसबी कैंडिडेट प्रवीण कुमार निषाद ने लगभग 22 हजार वोटों से जीत दर्ज की। गोरखपुर सीट सीएम योगी आदित्यनाथ के इस्तीफे के बाद खाली हुई थी। वहीं फूलपुर सीट डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के इस्तीफे के बाद खाली हुई थी।


जीत के बाद यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मायावती का शुक्रिया किया। उन्होंने कहा यूपी हमेशा से देश को संदेश देता आया है और इस बार उपचुनावों के नतीजे 2019 के चुनाव की ओर इशारा करने लगे हैं। 


वहीं उपचुनावों में हार के बाद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर से एसपी- बीएसपी गठबंधन पर निशाना साधा। हालांकि उन्होंने कहा कि पार्टी हार की समीक्षा करेगी।


इधर, बिहार से भी बीजेपी के लिए बुरी खबर आई। अररिया लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में आरजेडी के सरफराज आलम ने बीजेपी के प्रदीप कुमार सिंह को 57,358 वोटों से हरा दिया। बिहार में जहानाबाद और भभुआ विधानसभा सीटों के नतीजे भी आए। जहानाबाद में भी आरजेडी को जीत मिली। यहां कुमार कृष्ण मोहन ने बीजेपी कैंडिडेट को हरा दिया। बीजेपी के लिए भभुआ से राहत की खबर आई। यहां से बीजेपी की रिंकी रानी पांडे ने 15 हजार वोटों से जीत दर्ज की। रिंकी पांडे ने कांग्रेस के शंभू सिंह पटेल को हराया। बिहार के नतीजे सीएम नीतीश कुमार के लिए बेहद महत्वपूर्ण थे। क्योंकि एनडीए में शामिल होने के बाद ये उनका पहला उपचुनाव था।


बिहार में उपचुनाव में जीत के बाद आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने भी विपक्षी एकता की बात कही है। इधर कांग्रेस नेता आरपीएन सिंह ने कहा है कि जनता में मोदी सरकार के खिलाफ गुस्सा है।