Moneycontrol » समाचार » राजनीति

राहुल, सोनिया पर सीतारमण का हमला, हाथ जोड़कर प्रवासी मजदूरों पर राजनीति न करने को कहा

फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने कहा कि सोनिया गांधी को सरकार के साथ मिलकर प्रवासी मजदूरों पर काम करना चाहिए
अपडेटेड May 18, 2020 पर 08:23  |  स्रोत : Moneycontrol.com

देश में कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन घोषित है। आवाजही ठप है. ऐसे में प्रवासी मजदूर अपने गांवों की ओर पैदल ही निकल पड़े हैं. प्रवासी मजदूरों का सड़कों पर हजारों किलोमीटर की यात्रा करके घर जाना एक बड़ा मुद्दा बना हुआ है। इस मुद्दे पर जमकर राजनीतिक गलियारे में जमकर बयानबाजी हो रही है।


फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण जब रविवार को राहत पैकेज की पांचवीं किस्त जारी कर रहीं थी। तब प्रेस कॉन्फ्रेन्स में एक पत्रकार ने प्रश्न पूछा कि कि पीडीएस और मनरेगा के तहत जो घोषणाएं हुई हैं इनका फायदा प्रवासी मजदूर अपने घर पहुंचकर ही उठा पाएंगे। लेकिन ज्यादातर लोग अभी रास्ते में ही हैं। इस पर निर्मला आक्रमक हो गईं। उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि विपक्षी पार्टी से कहना चाहती हूं कि प्रवासियों के मुद्दे पर हम सभी को साथ मिलकर करना चाहिए। हम इस मामले पर राज्यों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। मैं हाथ जोड़कर सोनिया गांधी जी से कहना चाहती हूं कि हमें अपने प्रवासियों के साथ और जिम्मेदारी से बात करनी चाहिए। उन्होंने पूछा कि कांग्रेस शासित राज्य क्यों प्रवासी श्रमिकों के लिए अधिक ट्रेन की मांग नहीं कर रहे हैं?
सीतारमण ने कहा कि केंद्र सरकार ने मजदूरों से अपील की थी कि वे लोग वहीं रहें जहां पर फिलहाल हैं। सरकार उनके रहने-खाने के इंतजाम की हर संभव कोशिश कर रही। उन्होंने कहा लेकिन जब मजबूर लोग घर जाना ही चाहते थे तो केंद्र और रेलवे ने ट्रेन चलाने का ऐलान किया। रेलवे ने साफ कहा है कि ट्रेनें तैयार हैं जो राज्य जितनी ट्रेन मांगेगें उतनी दी जाएगी।


सीतारमण ने कहा कि उनकी सरकार प्रवासी मजदूरों के लिए बहुत ही गंभीर हैं। सरकार अपने स्तर पर कोई कसर नहीं छोड़ रही है फिर भी मन में दुख होता है कि प्रवासी मजदूर सड़क पर जा रहे हैं। निर्मला सीतारमण ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर भी निशाना साधा।


गौरतलब है कि शनिवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सड़क पर जाकर मजदूरों से बात की थी। इस सीतारमण ने कहा कि कांग्रेस की राज्य सरकार जहां भी हैं वहां की सरकार प्रवासी मजदूरों को मंगवाएं, सुविधा दे, घर पहुंचाए। जितनी चाहते हैं उतनी ट्रेनें मंगवाए।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।