Moneycontrol » समाचार » राजनीति

Bengal Elections: BJP उम्मीदवार बनाए जाने पर विवाद के बाद स्वपन दासगुप्ता ने राज्यसभा से दिया इस्तीफा

सरकार के मनोनीत सदस्य होते हुए वह चुनाव नहीं लड़ सकते थे, इसमें एक पेचीदगी यह भी है कि कोई भी मनोनीत सांसद 6 महीने के भीतर ही पार्टी में शामिल हो सकते हैं
अपडेटेड Mar 16, 2021 पर 20:22  |  स्रोत : Moneycontrol.com

राज्यसभा के मनोनीत सांसद स्वपन दासगुप्ता (Swapan Dasgupta) ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में BJP उम्मीदवार घोषित किए जाने के बाद मंगलवार को उच्च सदन की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। सरकार द्वारा मनोनीत BJP के राज्यसभा सांसद स्वपन दासगुप्ता ने TMC की सांसद महुआ मोइत्रा द्वारा उनके राज्यसभा के मनोनीत सांसद रहते हुए बंगाल विधानसभा चुनाव में उतरने को लेकर संवैधानिक सवाल उठाए थे। जिसके बाद दासगुप्ता ने सदस्यता से इस्तीफा देने की घोषणा की गई।


तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा ने आरोप लगाया था कि दासगुप्ता ने भारतीय संविधान की 10वीं अनुसूची का उल्लंघन किया है। दासगुप्ता अप्रैल, 2016 में राज्यसभा सदस्य बने था और पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में BJP ने उन्हें तारकेश्वर सीट से अपना उम्मीदवार बनाया है। दरअसल, सरकार के मनोनीत सदस्य होते हुए वह चुनाव नहीं लड़ सकते थे। इसमें एक पेचीदगी यह भी है कि कोई भी मनोनीत सांसद 6 महीने के भीतर ही पार्टी में शामिल हो सकते हैं।


उन्होंने राज्यसभा के सभापति से कल तक इस्तीफा मंजूर करने का आग्रह किया। इस्तीफे के बारे में पूछे जाने पर दासगुप्ता ने न्यूज एजेंसी पीटीआई से कहा कि मैंने हमेशा कहा है कि नामांकन पत्र (पश्चिम बंगाल चुनाव के लिए) दाखिल करने से पहले जो भी आवश्यक कदम उठाने होंगे, वे उठाए जाएंगे। राज्यसभा सदस्य के रूप में उनका कार्यकाल अप्रैल 2022 तक था।


मोहुआ मोइत्रा ने ट्वीट कर आरोप लगाया था कि दासगुप्ता बंगाल चुनाव में BJP के उम्मीदवार हैं। उन्होंने कहा कि संविधान की 10वीं अनुसूची के अनुसार, अगर कोई मनोनीत सदस्य शपथ लेने के छह महीने के बाद किसी राजनीतिक पार्टी में शामिल होते हैं तो उनकी सदस्यता रद्द की जा सकती है। मोइत्रा के अनुसार, दासगुप्ता ने अप्रैल 2016 को राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली थी।


उन्होंने कहा कि BJP में शामिल होने के कारण उन्हें अयोग्य घोषित किया जाना चाहिए। इस बीच कॉलमिस्ट और राजनीतिक टिप्पणीकार दासगुप्ता ने एक ट्वीट कर कहा कि मैंने बेहतर बंगाल की लड़ाई में अपने आप को समर्पित करने के लिए राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।