Moneycontrol » समाचार » राजनीति

EVM-VVPAT मिलान पर दायर याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने किया खारिज और कहा बकवास

प्रकाशित Tue, 21, 2019 पर 16:05  |  स्रोत : Moneycontrol.com

लोकसभा चुनाव के बाद 23 मई को वोटों की गिनती होगी। इस पर मंगलावार को सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की गई थी। जिसमें कहा गया था कि EVM-VVAT मशीनो की पर्ची का इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन के आंकड़ों से 100 फीसदी मिलान करने की मांग वाली जनहित याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी है।


ये याचिका चेन्नई की एक गैर सरकारी संगठन टेक फॉर आल न दायर की थी। पर सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अरुण मिश्र की अगुवाई वाली पीठ ने सुनवाई करने से मना कर दिया।


आपको बता दें कि इस मामले में सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्याधीश की अगुवाई वाली पीठ ने सुनवाई करके आदेश पारित कर चुकी है। 


मिश्र ने कहा कि हम प्रधान न्यायाधीश के आदेश की अवहेलना नहीं कर सकते। यह बकवास है। इसे खारिज किया जाता है।
इससे पहले सात मई को सुप्रीम कोर्ट ने 21 विपक्षी दलों की ओर से दायर समीक्षा याचिका खारिज कर दी थी।


आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू की अगुवाई में विपक्षी दलों की ओर से दायर याचिका में वीवीपैट पर्चियों के साथ ईवीएम के आंकड़ों का मिलान बढ़ा कर 50 फीसदी किए जाने की मांग की गयी थी।


सुप्रीम कोर्ट ने आठ अप्रैल को अपने फैसले में निर्वाचन आयोग को मतगणना के दिन प्रत्येक विधानसभा के पांच मतदान केंद्रों के ईवीएम और वीवीपैट का मिलान करने का निर्देश दिया था