Moneycontrol » समाचार » राजनीति

कश्मीर मामले में दखल नहीं देगा UNHRC, भारत-पाकिस्तान बातचीत से सुलझाए मामला

जिनेवा में मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद UNHRC) के 42वें सत्र में भारत के जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा वापस लेने के अपने संप्रभु फैसले का समर्थन किया है
अपडेटेड Sep 12, 2019 पर 09:23  |  स्रोत : Moneycontrol.com

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने भारत और पाकिस्तान, दोनों से स्थितियों के बिगड़ने की आशंका को टालने के मकसद से वार्ता के जरिए कश्मीर मुद्दा सुलझाने की अपील की है। जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म किए जाने को लेकर संरा मानवाधिकार परिषद (UNHRC) में दोनों देशों का विवाद चल रहा है।


जिनेवा में मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद UNHRC) के 42वें सत्र में भारत के जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा वापस लेने के अपने संप्रभु फैसले का समर्थन किया है। हालांकि पाकिस्तान ने इसे एक गैरकानूनी कृत्य करार देते हुए विश्व मानवाधिकार निकाय से इस मामले की अंतरराष्ट्रीय जांच कराने की मांग की है।


विदेश मंत्रालय में पूर्वी मामलों की सचिव विजय ठाकुर सिंह ने भारत के खिलाफ पाकिस्तान के आरोपों को खारिज किया। सिंह ने कहा कि अन्य कानूनों की तरह यह एक संप्रभु निर्णय है, जो पूरी तरह भारत का आंतरिक मामला है। कोई भी देश अपने आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप स्वीकार नहीं कर सकता है तथा भारत तो बिल्कुल भी नहीं।


उन्होंने कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान के दुष्प्रचार के खिलाफ प्रहार किया और राज्य द्वारा प्रायोजित आतंकवाद की आलोचना की। संयुक्त राष्ट्र प्रमुख के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने मंगलवार को होने वाले नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि गुतारेस ने भारत और पाकिस्तान, दोनों देशों के नेताओं से बात की थी ।


गुतारेस ने पिछले महीने फ्रांस के बिआरित्ज में G-7 शिखर सम्मेलन से इतर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी और पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से भी उन्होंने बात की थी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।