Moneycontrol » समाचार » प्रॉपर्टी

REITs से कमर्शियल निवेश के मौके, जानिए निवेशकों के लिए कितना है फायदेमंद

प्रॉपर्टी की सभी जरूरी जानकारी के साथ-साथ हम आपको देंगे, आपकी प्रॉपर्टी इन्वेस्टमेंट से जुड़े सवालों के जवाब।
अपडेटेड Feb 13, 2020 पर 08:50  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

प्रॉपर्टी की सभी जरूरी जानकारी के साथ-साथ हम आपको देंगे, आपकी प्रॉपर्टी इन्वेस्टमेंट से जुड़े सवालों के जवाब। और आपके सवालों के जवाब देंगे एक्वेस्ट के डायरेक्टर परेश कारिया।

सवालः REITs के जरिए 10 लाख का निवेश कमर्शियल प्रॉपर्टी में करना है। REITs कितना भरोसेमंद प्लेटफॉर्म है? क्या इससे हर महीने रिटर्न कमाया जा सकता है?


परेश कारिया: REIT से कमर्शियल निवेश के मौके है। कमर्शियल रिटर्न के फायदा होता है।


क्या होता है REITS ?


REIT रियल एस्टेट निवेश का आसान तरीका होता है। म्यूचुअल फंड की तर्ज पर रियल एस्टेट इन्वेस्टमेंट होता है। बड़ी प्रॉपर्टी में यूनिट के हिसाब से छोटा निवेश मुमकिन है। लिस्टिंग के बाद ट्रेड करने का विकल्प होता है।  REIT से निवेश भरोसेमंद होगा। 


REIT की खासियत


आम निवेशक कर सकते हैं कमर्शियल प्रॉपर्टी में निवेश कर सकते है। लंबे समय में वेल्थ क्रिएशन के मौके है। इसमें शेयर मार्केट जैसी अस्थिरता नहीं है। एंबेसी और ब्लैकस्टोन का पहला REIT आया है। 2019 में पहला REIT आया। जिसका 300 यूनिट का भाव 424 हुआ है।  इसमें सालाना 50% रिटर्न मिलता है। साल में दो साल निवेशकों को डिविडेंड मिला है। बड़े कमर्शियल डेवलपर्स के REITs जल्द आएंगे।



सवालः 85 लाख से 1.10 करोड रुपये में पुणे में 2/3BHK लेना है।  मुख्य शहरी इलाके में घर लेना है। बावधान में गंगा और पूर्वांकुरा के प्रोजेक्ट देखे हैं। इलाके का डेवलपमेंट और 2-3 साल में एप्रिसिएशन कितना हो सकता है?


परेश कारिया:  पुणे का बावधान इलाका कोथरूड और चांदनी चौक से नजदीक है। हरियाली में बसा इलाका है।  पुणे- बंगलुरू एक्सप्रेस वे से करीब है। बावधान में कई नए प्रोजेक्ट पर काम जारी है। बंगलुरू के जाने माने डेवलपर पूर्वांकुरा है और पूर्वांकुरा का अस्पायर प्रोजेक्ट है। 3BHK के लिए 1.2 करोड़ रुपये, गंगा यूटोपिया में 1.10 करोड रुपये का घर मिल जायेगा।  हाईवे, हिंजेवाडी और बाणेर के करीब पेबल्स 2 प्रोजेक्ट है। अंडर कंस्ट्रक्शन और रेडी फ्लैट्स है।


बालेवाडी में रिटेल, कमर्शियल और रिहायशी डेवलपमेंट तेज हो रही है। बालेवाडी हाई लोकेशन का सोशल इन्फ्रा बढ़िया है। बावधान से बालेवाडी में निवेश फायदेमंद होगा। परफेक्ट 10 में 1 करोड़ तक प्रोजेक्ट है।  नाइकनवरे का एवॉन विस्टा प्रोजेक्ट भी है।


सवालः कल्याण के पास आंबिवली में नेपचून डेवलपर के रामराज्य प्रोजेक्ट निवेश किया है। सबवेंशन स्कीम से निवेश  किया है। प्रोजेक्ट का काम बंद पड़ चुका है। अब डेवलपर प्री EMI की मांग कर रहा है। इससे निकलने के लिए हम जैसे घर खरीदारों के लिए क्या विकल्प मौजूद हैं?


परेश कारिया: सबवेंशन स्कीम की जानकारी नहीं है। अब सबवेंशन स्कीम बंद हो चुकी है। एग्रीमेंट जांच लें और डेवलपर को EMI अदा करने की शर्त देखें। डेवलपर किश्त ना चुका पाने पर बैंक के पास खरीदारों से पैसे वसूलने का हक होता है। एग्रीमेंट की शर्तें मानना खरीदार और डेवलपर दोनों के लिए अनिवार्य होता है। कानूनी एक्सपर्ट की मदद से कंज्यूमर कोर्ट में केस करने का विकल्प है। इससे घर खरीदार का CIBIL स्कोर खराब होने का खतरा होता है। बैंक घर खरीदारों को डिफॉल्टर मानेगी और लोन NPA होगा।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।