घाटे से मुनाफे में आया बैंक ऑफ इंडिया, एनपीए भी घटा

प्रकाशित Thu, 16, 2019 पर 13:56  |  स्रोत : Moneycontrol.com

वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में बैंक ऑफ इंडिया को 251.8 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है जबकि वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में बैंक को 3,969 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था।


वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में बैंक ऑफ इंडिया की ब्याज आय 57.7 फीसदी बढ़कर 4,044.4 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में बैंक ऑफ इंडिया की ब्याज आय 2,564 करोड़ रुपये रही थी।


तिमाही दर तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में बैंक ऑफ इंडिया का ग्रॉस एनपीए 16.31 फीसदी से घटकर 15.84 फीसदी और नेट एनपीए 5.87 फीसदी से घटकर 5.61 फीसदी रहा है।


रुपये में देखें तो तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में बैंक का ग्रॉस एनपीए 60,797 करोड़ रुपये से घटकर 60,661 करोड़ रुपये रही है जबकि नेट एनपीए 19,437 करोड़ रुपये से घटकर 19,119 करोड़ रुपये रही है।


तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में बैंक ऑफ इंडिया की प्रोविजनिंग 9,001 करोड़ रुपये से बढ़कर 1,897.4 करोड़ रुपये रही है, जबकि पिछले साल इसी तिमाही में प्रोविजनिंग 6,674 करोड़ रुपये रही थी।