DMart Q4 Results: DMart का नेट प्रॉफिट 53% बढ़ा, EBITDA में भी भारी उछाल

Q4 में DMart के नेट प्रॉफिट में 52.7% की उछाल आई और कंपनी के शुद्ध मुनाफा 414 करोड़ रुपये रहा, जबकि कंपनी का कहना है कि कोविड के सेकेंड वेव के कारण उसके 80% स्टोर प्रभावित हुए हैं
अपडेटेड May 10, 2021 पर 13:49  |  स्रोत : Moneycontrol.com

रिटेल स्टोर डीमार्ट (DMart) की मालिकाना हक वाली कंपनी एवेन्यू सुपरमार्ट (Avenue Supermarts) ने कोविड-19 की दूसरी लहर के बावजूद वित्त वर्ष 2020-21 की अंतिम तिमाही में शानदार प्रदर्शन किया है। Q4 में DMart के नेट प्रॉफिट में 52.7% की उछाल आई और कंपनी के शुद्ध मुनाफा 414 करोड़ रुपये रहा, जो पिछले साल की समान तिमाही में केवल 271 करोड़ रुपये रहा था।

जबकि, कंपनी का कहना है कि कोविड के सेकेंड वेव के कारण उसके 80% स्टोर प्रभावित हुए हैं। Q4 में ऑपरेशंस से कंपनी के रेवेन्यू में 18.4% की बढ़ोतरी हुई और यह 7,411.6 करोड़ रुपये रहा जो पिछले साल की मार्च तिमाही में 6,256 करोड़ रुपये रहा था।

FY21 के Q4 में DMart का अर्निंग विफोर इंटरेस्ट, टैक्स डिप्रिसिएशन एंड एमोर्टाइजेशन यानी EBITDA 613 करोड़ रुपये रहा, जो पिछले साल के Q4 में केवल 417 करोड़ रुपये रहा था। यानी मार्च तिमाही में सालाना आधार पर कंपनी के EBITDA में 47% की बढ़ोतरी हुई है। जबकि, कंपनी का EBITDA 8.3% रहा जो पिछले साल Q4 में 6.7% रहा था।

कंपनी ने मार्च तिमाही नतीजे जारी करते हुए कहा कि मार्च 2021 के बाद से कोविड-19 के सेकेंड वेव के कारण उसके 80% स्टोर का काम प्रभावित हुआ है और कोविड प्रतिबंधों के कारण रोज औसतन 4 घंटे ही स्टोर खुल पा रहे हैं। इससे कंपनी के रेवेन्यू पर निगेटिव असर पड़ सकता है।  

स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग में DMart ने कहा कि कंपनी को सप्लायर्स से रेगुलर सामान की डिलिवरी मिल रही है। लेकिन इस बार कंपनी को एक्सेस इंवेटरी की समस्या हो रही है। कंपनी ने कहा कि स्टोक कम समय के लिए खुलने से उसे अपने इंवेटरीज को लिक्विड करने में अधिक समय लग रहा है, जिससे कंपनी के रेवेन्यू पर असर पड़ना तय है।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।