एचडीएफसी बैंक का मुनाफा 22.6% बढ़ा, एसेट क्वालिटी सुधारी

प्रकाशित Sat, 20, 2019 पर 16:45  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

चौथी तिमाही में एचडीएफसी बैंक ने अच्छे नतीजे पेश किए हैं। बैंक की आय में करीब 23 फीसदी की बढ़त देखने को मिली है। वहीं मुनाफा भी उम्मीद से ज्यादा रहा है। बैंक की एसेट क्वालिटी में भी सुधार देखने को मिला है।


वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में एचडीएफसी बैंक का मुनाफा 22.6 फीसदी बढ़कर 5885.1 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में एचडीएफसी बैंक का मुनाफा 4799.3 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में एचडीएफसी बैंक की ब्याज आय 22.8 फीसदी बढ़कर 13090 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में एचडीएफसी बैंक की ब्याज आय 10658 करोड़ रुपये रही थी।


तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में एचडीएफसी बैंक का ग्रॉस एनपीए 1.38 फीसदी से घटकर 1.36 फीसदी और नेट एनपीए 0.42 फीसदी से घटकर 0.39 फीसदी रहा है।


रुपये में देखें तो तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में एचडीएफसी बैंक का ग्रॉस एनपीए 10902.9 रुपये से बढ़कर 11224 करोड़ रुपये और नेट एनपीए 3301.5 करोड़ रुपये से घटकर 3214 करोड़ रुपये रहा है।


तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में एचडीएफसी बैंक की प्रॉविजनिंग 2211.5 करोड़ रुपये से घटकर 1889 करोड़ रुपये रही है जबकि पिछले साल की चौथी तिमाही में एचडीएफसी बैंक की प्रॉविजनिंग 1541 करोड़ रुपये रही थी। बैंक नें 15 रुपये प्रति शेयर डिविडेंड की भी घोषणा की है।