इंफोसिसः मुनाफा 12.2 घटा, डॉलर आय 2.2% बढ़ी

प्रकाशित Fri, 11, 2019 पर 16:31  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में इंफोसिस का मुनाफा 12.2 फीसदी घटकर 3,609 करोड़ रुपये रहा है जबकि वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में इंफोसिस का मुनाफा 4110 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में इंफोसिस की डॉलर में होने वाली आय 2.2 फीसदी बढ़कर 289.7 करोड़ रुपये रही है जबकि वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में इंफोसिस की डॉलर में होने वाली आय 252.1 करोड़ रुपये रही थी। 


वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में इंफोसिस की रुपये में होने वाली आय 3.1 फीसदी बढ़कर 21400 करोड़ रुपये रही है जबकि वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में इंफोसिस की रुपये में होने वाली आय 20609 करोड़ रुपये रही थी।


तिमाही दर तिमाही में अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में इंफोसिस का एबिट 4894 करोड़ रुपये से घटकर 4830 करोड़ रुपये रहा है। तिमाही आधार तीसरी तिमाही में एबिट मार्जिन 23.7 फीसदी से घटकर 22.6 फीसदी पर रहा है।


तीसरी तिमाही में कंपनी की कंसोलिडेटेड एट्रिशन रेट 19.9 फीसदी रही है जो पिछली तिमाही में 22.2 फीसदी रही थी। कंपनी ने तीसरी तिमाही में 7762 नई भर्तियां की है।


कंपनी के बोर्ड ने 800 रुपये प्रति शेयर की दर से 8260 करोड़ रुपये के शेयर बायबैक प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इसके साथ ही शेयरधारकों को 4 रुपये प्रति शेयर के दर से स्पेशल डिविडेंड देने की भी घोषणा की गई है।