इंफोसिस का मुनाफा 6.8% घटा, डॉलर आय 2.3% बढ़ी

वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में इंफोसिस का मुनाफा 6.8 फीसदी घटकर 3,802 करोड़ रुपये रहा है।
अपडेटेड Jul 12, 2019 पर 16:32  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में इंफोसिस का मुनाफा 6.8 फीसदी घटकर 3,802 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में इंफोसिस का मुनाफा 4,078 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में इंफोसिस की डॉलर आय 2.3 फीसदी बढ़कर 313.1 करोड़ डॉलर रहा है। वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में इंफोसिस की डॉलर आय 306 करोड़ डॉलर रही थी।


वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में इंफोसिस की आय 1.2 फीसदी बढ़कर 21,803 करोड़ रुपए रही है। वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में इंफोसिस की आय 21,539 रुपये रही थी।


तिमाही आधार पर पहली तिमाही में इंफोसिस का एबिट 4,618 करोड़ रुपये से घटकर 4,471 करोड़ रुपये और एबिट मार्जिन 21.4 फीसदी से घटकर 20.5 फीसदी रहा है।


पहली तिमाही में कंपनी के डिजिटल कारोबार की आय 1.12 अरब डॉलर रही है जो कंपनी की कुल आय का 35.7 फीसदी है। कंपनी ने पहली तिमाही में 2.7 अरब डॉलर के बड़े डील किए हैं।


तिमाही आधार पर पहली तिमाही में इंफोसिस की कंसोलीडेटेड एट्रीशन रेट 20.4 फीसदी से बढ़कर 23.4 फीसदी रहा है। वहीं, कंपनी का स्टैंडएलोन एट्रीशन रेट 18.3 फीसदी से बढ़कर 21.5 फीसदी रहा है।


इंफोसिस ने 2020 के लिए कॉस्टेंट करेंसी ग्रोथ गाइडेंस 7.5-9.5 फीसदी से बढ़ाकर 8.5-10 फीसदी कर दिया है। जबकि 2020 के लिए एबिट मार्जिन गाइडेंस को 21-23 फीसदी पर बरकरार रखा है।