रिलायंस ने पेश किये नतीजे, Q2 में कंपनी का मुनाफा ₹11262 करोड़ रहा

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही के नतीजे घोषित कर दिये हैं।
अपडेटेड Oct 21, 2019 पर 09:29  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही के नतीजे घोषित कर दिये हैं। दूसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज का मुनाफा 11.5 फीसदी बढ़कर 11,262 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज का मुनाफा 10,104 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की आय 5.4 फीसदी घटकर 1.48 लाख करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की आय 1.57 लाख करोड़ रुपये रही थी।


दूसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज के जीआरएम में बढ़ोतरी देखने को मिली है। दूसरी तिमाही रिलायंस इंडस्ट्रीज का जीआरएम (GRM) पिछली तिमाही के 8.10 डॉलर प्रति बैरल से बढ़कर 9.40 डॉलर प्रति बैरल हो गया है।


तिमाही दर तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज का एबिटडा  21,315 करोड़ रुपये से बढ़कर 22,152 करोड़ रुपये रहा है जबकि दूसरी तिमाही में कंपनी की एबिटडा मार्जिन 13.6 फीसदी से बढ़कर 14.91 फीसदी पर रही है।


दूसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की पेट्रो केमिकल कारोबार से होनेवाली आय 2.5 फीसदी बढ़कर 38,538 करोड़ रुपये पर आ गई है जो कि वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में 37,611 करोड़ रुपये रही थी।


दूसरी तिमाही में कंपनी के पेट्रोकेमिकल कारोबार का एबिटडा 7,508 करोड़ रुपये से बढ़कर 7,602 करोड़ रुपये पर आ गया है। इस अवधि में कंपनी के पेट्रो केमिकल कारोबार का एबिटडा मार्जिन पहली  तिमाही के 22.1 फीसदी से घटकर 19.7 फीसदी रहा है।


दूसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की रिटेल कारोबार से होनेवाली आय 27 फीसदी बढ़कर 41,202 करोड़ रुपये पर रही है जो कि वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में 32,436 करोड़ रुपये रही थी।


दूसरी तिमाही में कंपनी के रिटेल कारोबार का एबिटडा 1,244 करोड़ रुपये से बढ़कर 2,035 करोड़ रुपये पर आ गया है। दूसरी तिमाही में कंपनी के रिटेल कारोबार का एबिटडा मार्जिन पहली तिमाही के 3.8 फीसदी से बढ़कर 4.9 फीसदी रहा है।


दूसरी तिमाही में कंपनी ने 337 नए स्टोर खोले है। दूसरी तिमाही में कंपनी को  कुल स्टोर बढ़कर 10,901 हो गई है।


दूसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की रिफाइनिंग कारोबार से होनेवाली आय 4.4 फीसदी घटकर 97,229 करोड़ रुपये पर आ गई है जो कि वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में 1.01 लाख करोड़ रुपये रही थी।


दूसरी तिमाही में कंपनी के रिफाइनिंग कारोबार का एबिटडा 4,508 करोड़ रुपये से बढ़कर 4,957 करोड़ रुपये रहा है। इस अवधि में कंपनी के रिफाइनिंग कारोबार का एबिटडा मार्जिन पहली तिमाही के 4.4 फीसदी से बढ़कर 5.1 फीसदी रहा है।


Reliance Jio


वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में रिलायंस जियो का मुनाफा 11.1 फीसदी बढ़कर 990 करोड़ रुपये रहा है जो इसी साल की पहली तिमाही में 891 करोड़ रुपये रहा था। दूसरी तिमाही में रिलायंस जियो की आय 5.8 फीसदी बढ़कर 12,354 करोड़ रुपये रही है जो इसी साल के पहली तिमाही में 11,679 करोड़ रुपये रही थी।


तिमाही दर तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में रिलायंस जियो का एबिटडा 4,686 करोड़ रुपये से बढ़कर 5,166 करोड़ रुपये रहा है। तिमाही दर तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में रिलायंस जियो का एबिटडा मार्जिन 40.1 फीसदी से बढ़कर 41.8 फीसदी रहा है।


रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि कंपनी ने दूसरी तिमाही में रिकॉर्ड प्रॉफिट दर्ज किया है। ये O2C और कंज्यूमर बिजनेस में तेजी से संभव हो पाया है। O2C बिजनेस में नई पार्टनरशिप से बेहतर नतीजे आए हैं। उन्होंने कहा कि रिलायंस रिटेल में भी जोरदार तेजी आई है। कंपनी ने EBITDA और रेवेन्यू के मोर्चे पर शानदार प्रदर्शन किया है। मुकेश अंबानी ने ये भी कहा  है कि Jio भारत का सबसे बड़ा 4G नेटवर्क हो गया है। उन्होंने कहा कि JioFiber के जरिए इंडस्ट्री में नया गेमचेंजर बनने वाले हैं।


मुकेश अंबानी ने कहा कि 35 करोड़ सब्सक्राइबर के साथ Jio दुनिया की सबसे तेज डिजिटल सर्विस कंपनी बन गई है। साथ ही Jio में हर महीने 1 करोड़ नए ग्राहक जुड़ रहे हैं। Jio भारत की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी ही नहीं देश का डिजिटल गेटवे भी बन गया है। मुकेश अंबानी ने कहा कि Jio होम ब्रॉडबैंड, एंटरप्राइजेज सर्विसेज, SME कनेक्टिविटी और IoT में अहम कदम उठाने जा रही है। उन्होंने कहा कि रिलायंस भारत को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इकोनॉमी में ट्रांसफॉर्म करेगी।


रिलायंस इंडस्ट्रीज का इन्वेस्टमेंट साइकल भी पूरा हो गया है। नतीजों पर और डिटेल देते हुए रिलायंस इंडस्ट्री के CFO आलोक अग्रवाल ने बताया कि एनर्जी सेगमेंट के सभी प्रोजेक्ट्स लगभग पूरे हो गए हैं। डिजिटल बिजनेस के प्रोजेक्ट्स भी लगभग पूरे हो गए हैं। GRM बढ़ने से एनर्जी बिजनेस में EBITDA बढ़ा है।


रिलायंस के रिटेल बिजनेस और जियो का प्रदर्शन भी बेहतरीन रहा है। कंपनी के CFO आलोक अग्रवाल ने बताया कि रिटेल में कंपनी ने इस तिमाही में 337 नए स्टोर खोले तो वहीं 35 करोड़ ग्राहक जोड़कर JIO दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा नेटवर्क बन गया है। पेटकेम में अब तक का सबसे ज्यादा वॉल्यूम देखने को मिला है।


वहीं, SMC ग्रुप के सौरभ जैन ने बाजार के लिए रिलांयस के नतीजों को पॉजिटिव बताया है। उन्होंने कहा कि बाजार खुलने पर रिलायंस का स्टॉक तेजी के साथ खुलेगा। 


 


डिस्क्लोजरः मनीकंट्रोल डॉट कॉम रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है। नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।