RIL को सितंबर तिमाही में 9567 करोड़ रुपए का प्रॉफिट, आमदनी 1.2 लाख करोड़ रुपए

सितंबर तिमाही में RIL का कंसॉलिडेटेड प्रॉफिट 9567 करोड़ रुपए रहा, इससे पहले जून तिमाही में कंपनी का एडजस्टेड प्रॉफिट 8380 करोड़ रुपए था
अपडेटेड Oct 31, 2020 पर 16:20  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) ने 30 अक्टूबर को अपने नतीजे जारी किए। टेलीकॉम और रिटेल बिजनेस की बदौलत कंपनी बेहतर नतीजे देने में कामयाब रही है। सितंबर तिमाही में RIL का कंसॉलिडेटेड प्रॉफिट 9567 करोड़ रुपए रहा। इससे पहले जून तिमाही में कंपनी का एडजस्टेड प्रॉफिट 8380 करोड़ रुपए था। 


जून में कंपनी का प्रॉफिट 13,248 करोड़ रुपए था। इसमें 4966 करोड़ रुपए की अन्य आय भी शामिल थी। कंपनी को यह रकम रिलायंस-BP मोबिलिटी में BP को हिस्सेदारी बेचने से मिली थी।


सितंबर तिमाही में कंपनी की आमदनी 1,16,195 करोड़ रुपए रही जबकि एक साल पहले इसी तिमाही में कंपनी की आमदनी 1,53,384 करोड़ रुपए थी। यानी पिछले साल की इसी तिमाही के मुकाबले इस बार कंपनी की आमदनी में 24 फीसदी की गिरावट आई है। 


अपनी कंपनी जियो प्लेटफॉर्म्स के नतीजों का ऐलान किया। सितंबर तिमाही में जियो का कंसॉलिडेटेड प्रॉफिट 2844 करोड़ रुपए का रहा है।


इस साल अब तक रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में 35 फीसदी की तेजी आ चुकी है। अगर हम 23 मार्च के निचले स्तर से तुलना करें तो रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में 131 फीसदी की तेजी आई है।


16 सितंबर को रिलायंस इंडस्ट्रीज का मार्केट कैपिटलाइजेशन 16 लाख करोड़ रुपए पहुंचा था। तब कंपनी के शेयर 2369.35 रुपए पर ट्रेड कर रहे थे। आज 30 अक्टूबर को रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर 2064 रुपए पर बंद हुए हैं।


रिलायंस रिटेल के नतीजे


फिस्कल ईयर 2021 की दूसरी तिमाही में रिलायंस रिटेल की आमदनी 4.93 फीसदी बढ़कर 39,199 करोड़ रुपए रही। इस दौरान कंपनी का ऑपरेटिंग मार्जिन 13.77 फीसदी गिरकर 2009 करोड़ रुपए रहा। दूसरी तिमाही में रिलायंस रिटेल वेंचर्स ने  SLP रेनबो होल्डिंग (सिल्वर लेक) को शेयर जारी करके 7500 करोड़ रुपए जुटाए थे।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।