बैंक ऑफ बड़ौदा को 991,4 करोड़ रुपये का घाटा

प्रकाशित Thu, 23, 2019 पर 10:15  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में बैंक ऑफ बड़ौदा को 991,4 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में बैंक ऑफ बड़ौदा को 3102.3 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था।


वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में बैंक ऑफ बड़ौदा की ब्याज आय 26.6 फीसदी बढ़कर 5067 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में बैंक ऑफ बड़ौदा की ब्याज आय 4002.3 करोड़ रुपये रही थी।


वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में बैंक ऑफ बड़ौदा का तिमाही दर तिमाही आधार पर ग्रॉस एनपीए 11.01 फीसदी से घटकर 9.61 फीसदी रहा है। तिमाही आधार पर तीसरी तिमाही में बैंक ऑफ बड़ौदा का नेट एनपीए 4.26 फीसदी से घटकर 3.33 फीसदी रहा है।


रुपये में बैंक ऑफ बड़ौदा के एनपीए पर नजर डालें तो तिमाही आधार पर चौथी में ग्रॉस एनपीए 53184.3 करोड़ रुपये से घटकर 48,232.8 करोड़ रुपये रहा है। तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में बैंक ऑफ बड़ौदा का नेट एनपीए 19,130.5 करोड़ रुपये से घटकर 115609 करोड़ रुपये रहा है।


तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में बैंक ऑफ बड़ौदा की प्रोविजनिंग 2,794.2 करोड़ रुपये से बढ़कर 5399.3 करोड़ रुपये रही है, जबकि पिछले साल इसी तिमाही में प्रोविजनिंग 6672 करोड़ रुपये रही थी।