मुनाफे से घाटे में आई टाटा मोटर्स

प्रकाशित Fri, 08, 2019 पर 07:55  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

ऑटो दिग्गज टाटा मोटर्स ने दिसंबर तिमाही के नतीजे पेश किए हैं। कंपनी के नतीजे अनुमान से बेहद कमजोर हैं। टाटा मोटर्स के नतीजे हर पैमाने पर खराब रहे हैं। एसेट्स और इन्वेस्टमेंट्स को राइट-ऑफ करने से 26950 करोड़ रुपये से ज्यादा का घाटा हुआ है। जेएलआर भी लगातार तीसरी तिमाही घाटे में रही है। टाटा मोटर्स का एडीआर 10 फीसदी लुढ़क गया है।


जहां बाजार ने टाटा मोटर्स को 541 करोड़ रुपए के कंसोलिडेटेड मुनाफे का अनुमान लगाया था वहां कंपनी को 26961 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है। हालांकि कंसोलिडेटेड आय 3.8 फीसदी की बढ़त के साथ 77 हजार करोड़ रुपए रही है। लेकिन कंसोलिडेटेड मार्जिन 11.5 फीसदी से फिसलकर 8.5 फीसदी पर आ गई है। वहीं जेएलआर के एसेट इंपेयरमेंट की वजह से कंपनी को 27838 करोड़ रुपए का एकमुश्त घाटा हुआ है। चीन के बाजार में चुनौती बरकरार रहने से जेएलआर को लगातार तीसरी तिमाही में घाटा झेलना पड़ा है।