उज्जीवन का मुनाफा 1.6% घटा, ब्याज आय 21.7% बढ़ी

चौथी तिमाही में उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक ने अनुमान से अच्छे नतीजे पेश किए हैं।
अपडेटेड May 31, 2019 पर 10:49  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

चौथी तिमाही में उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक ने अनुमान से अच्छे नतीजे पेश किए हैं। वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में उज्जीवन का मुनाफा 1.6 फीसदी घटकर 63.8 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में उज्जीवन का मुनाफा 64.9 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में उज्जीवन की ब्याज आय 21.7 फीसदी बढ़कर 327.7 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में उज्जीवन की ब्याज आय 269.3 करोड़ रुपये रही थी।


तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में उज्जीवन की प्रॉविजनिंग 7 करोड़ रुपये से बढ़कर 12.4 करोड़ रुपये रही है जबकि वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में उज्जीवन ने 34.7 करोड़ रुपये की प्रॉविजनिंग की थी।


तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में उज्जीवन का ग्रॉस एनपीए 1.4 फीसदी से घटकर 0.9 फीसदी पर रहा है। जबकि नेट एनपीए पिछली तिमाही के 0.3 फीसदी पर बरकरार रहा है।


रुपये में देखें तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में उज्जीवन का ग्रॉस एनपीए 131 करोड़ रुपये से घटकर 100.9 करोड़ रुपये और नेट एनपीए 28 करोड़ रुपये से बढ़कर 32.7 करोड़ रुपये रहा है।