विप्रो का मुनाफा 21 फीसदी बढ़ा, डॉलर में आमदनी 36 तिमाही में सबसे ज्यादा

डॉलर में देखें तो कंपनी की आमदनी साल-दर-साल आधार पर 3.9 फीसदी बढ़ी है जबकि तिमाही दर तिमाही आधार पर इसमें 3.7 फीसदी का उछाल आया है
अपडेटेड Jan 14, 2021 पर 10:59  |  स्रोत : Moneycontrol.com

सॉफ्टवेयर सर्विसेज की कंपनी विप्रो ने 13 जनवरी को दिसंबर 2020 तिमाही के नतीजे जारी किए। अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के दौरान कंपनी का कंसॉलिडेट प्रॉफिट 20.8 फीसदी बढ़कर 2,966.70 करोड़ रुपए हो गया। इससे एक साल पहले इसी तिमाही में विप्रो का कंसॉलिडेटड प्रॉफिट 2455.80 करोड़ रुपए था।


इस दौरान कंपनी की कंसॉलिडेटेड आमदनी 15,670 करोड़ रुपए रही। यह पिछले साल की तीसरी तिमाही के मुकाबले 1.3 फीसदी ज्यादा है। उस वक्त विप्रो की कंसॉलिडेटड आमदनी 15,470.50 करोड़ रुपए थी।


डॉलर में देखें तो कंपनी की आमदनी साल-दर-साल आधार पर 3.9 फीसदी बढ़ी है जबकि तिमाही दर तिमाही आधार पर इसमें 3.7 फीसदी का उछाल आया है। कंपनी ने बताया कि डॉलर में कंपनी की आमदनी पिछली 36 तिमाहियों में सबसे ज्यादा रही है।


विप्रो की CC रेवेन्यू ग्रोथ  दिसंबर तिमाही में 3.4 फीसदी रही है। यह CNBC-TV18 पोल के 2.6 फीसदी के अनुमान से ज्यादा रहा।


IT सर्विसेज की रेवेन्यू तिमाही दर तिमाही आधार पर 3.8 फीसदी बढ़कर 15,333.1 करोड़ रुपए रही जो सितंबर तिमाही में 14,768.1 करोड़ रुपए थी। कंपनी का EBIT ग्रोथ 17.1 फीसदी बढ़कर 3,320.4 करोड़ रुपए रहा जो सितंबर 2020 तिमाही में  2,835.1 करोड़ रुपए था।   


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।