Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

जून तिमाही के नतीजों का विश्लेषण, कहां हैं निवेश के मौके!

प्रकाशित Thu, 09, 2018 पर 12:59  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

पहली तिमाही की परीक्षा खत्म होने को है। कई सेक्टर और कंपनियां इम्तिहान में अव्बल नंबर से पास हुई तों कई फिसड्डी साबित हुई हैं। कोई हिट हुआ तो कोई पूरी तरह से चित। अपने इस शो में हम कॉरपोरेट इंडिया का रिपोर्ट कार्ड पेश कर रहे हैं। ये शो देखने के बाद आप को पता चल जाएगा कि किन कंपनियों को गले लगाने का वक्त है और किन को अपने पोर्टफोलियो से विदा करने में ही भलाई है। हमारे एक्सपर्ट आपको कुछ ऐसे ही बाहुबली बताएंगे जिन पर निवेश कर आप जोरदार मुनाफा कमा सकते है। हमारी मदद कर रहे हैं ट्रेडस्विफ्ट के डायरेक्टर संदीप जैन और मार्केट एक्सपर्ट शाहिना मुकादम।


पहली तिमाही में एफएमसीजी का जलवा देखने को मिला है। डाबर और नेस्ले के शानदार नतीजे आए। कम बेस का फायदा मिला और वॉल्यूम ग्रोथ में भी जोरदार उछाल रहा। हालांकि पहली तिमाही में ऑटो पर ब्रेक लगता नजर आया। पहली तिमाही में ऑटो कंपनियों के नतीजे कमजोर रहे। दरअसल लागत बढ़ने से मुश्किलें बढ़ीं हैं। वहीं पहली तिमाही में एविएशन कंपनियों के नतीजे भी खराब रहे। महंगे कच्चे तेल ने एविएशन कंपनियों का खेल बिगाड़ने का काम किया।


पहली तिमाही में पेपर इंडस्ट्री हिट साबित हुई है। पहली तिमाही में ज्यादातर पेपर कंपनियों का प्रदर्शन अच्छा रहा है। ज्यादा मांग का नतीजों पर असर दिखा और दाम बढ़ाने का भी फायदा मिला है। वहीं पहली तिमाही में गैस कंपनियों को कीमतें बढ़ने का फायदा मिला है। इसके अलावा पहली तिमाही में पीएसयू बैंक की सेहत में सुधार दिखा है। पीएसयू बैंकों से खराब नतीजों की आशंका थी, लेकिन नतीजे अनुमान से बेहतर रहे हैं। वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही की तुलना में वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में पीएसयू बैंकों का प्रदर्शन अच्छा रहा है।
 
ट्रेडस्विफ्ट ब्रोकिंग के संदीप जैन ने नतीजों के बाद अब डाबर में मुनाफावसूली करने की सलाह दी है। टाटा मोटर्स में खरीदारी करने की सलाह है जबकि इंटरग्लोब एविएशन से निकलने के लिए कहा है। संदीप जैन के मुताबिक महानगर गैस में खरीदारी की जा सकती है। साथ ही उन्होंने बीईएमएल में बने रहने की सलाह दी है। संदीप जैन का कहना है कि पीएनबी में खरीदारी की जा सकती है।


वहीं मार्केट एक्सपर्ट शाहिना मुकादम ने नेस्ले में खरीदारी करने की सलाह दी है। शाहिना मुकादम के मुताबिक उज्जीवन में बने रह सकते हैं, जबकि टाटा मोटर्स में खरीदारी की जा सकती है। शाहिना मुकादम ने वीआईपी इंडस्ट्रीज और श्रीराम ट्रांसपोर्ट में बने रहने की सलाह दी है।