Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

वक्त से पहले ही करिए भविष्य के शेयर की बुकिंग

प्रकाशित Fri, 30, 2018 पर 13:34  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आजकल जिससे भी पूछो क्या चल रहा है तो वो कह रहा है 2.0 चल रहा है। चारों तरफ बस इसकी ही चर्चा है। कमाल के विचुअल इफेक्ट है इसमें। इसी तरह शेयर बाजार में भी इस वक्त उन शेयरों की ही चर्चा है जिसमें कमाल का फ्यूचर प्रॉस्पेक्ट है। निवेशकों को नए जमाने के चिट्टी बाबू चाहिए जो पहले के मुकाबले ज्यादा दमदार और पावरफुल हो। हम आज इस शो में आपको स्टॉक 2.0 के बारे में बताने जा रहे जो नए जमाने के हैं।


आशीष वर्मा के नए जमाने के एडवांस शेयर


3एम इंडिया


3एम इंडिया का पहला प्रोडक्ट टेलीकॉम इंडस्ट्री के लिए बनाया गया कनेक्टर था। 30 साल में कंपनी ने खुद को पूरी तरह बदला है। कंपनी टेप, एडेसिव, स्टेथोस्कोप/ सिरींज, फैब्रिक प्रोटेक्टर, टूथपेस्ट, ईयर प्लग, ग्रेफाइट फिल्म/सन कंट्रोल फिल्म, फेस शील्ड/प्रोटेक्टिव गियर/रिफ्लेक्टिव एपेरल बनाती है। स्कॉच टेप, स्कॉच ब्राइट, 3एम कार स्टोर, एयर प्यूरिफायर 3एम इंडिया के ब्रैंड हैं। 3एम इंडिया में प्रोमोटर हिस्सेदारी 75 फीसदी है। पिछले 4 साल में कंपनी का सालाना मुनाफा 64 फीसदी बढ़ा है।
 
स्टरलाइट टेक्नोलॉजी


स्टरलाइट टेक्नोलॉजी का डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन पर फोकस है। डाटा खपत बढ़ने से फाइबर की मांग बढ़ी है। मांग और बढ़ाने के लिए कंपनी 5जी में निवेश कर रही है। पिछले साल कंपनी ने सबसे बड़ी कमाई की है। कंपनी को कई लंबे समय के कॉन्ट्रैक्ट मिले हैं।


वरुण दुबे के नए जमाने के एडवांस शेयर


हनीवेल ऑटोमेशन


कंपनी ने भविष्य को ध्यान में रखते हुए नए-नए प्रोडक्ट लॉन्च किए हैं। फ्यूचर के लिए प्रोडक्ट तैयार करने पर कंपनी का जोर है। हनीवेल ऑटोमेशन हवाई जहाज, बिल्डिंग, इंडस्ट्री के लिए ऑटोमेशन, सेफ्टी प्रोडक्ट, फार्मा पैकेजिंग, बारकोड स्कैनर, आरएफआईडी सॉल्यूशन, कम्प्यूटर, एयर प्यूरिफायर, कूलर, एयर पॉल्यूशन मास्क, स्विच और सॉकेट बनाती है।


आईजीएल


आईजीएल गैस डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी है। दिल्ली, नोएडा, ग्रोटर नोएडा, गाजियाबाद में कंपनी का कारोबार है। यूपी गैस लिमिटेड में कंपनी की 50 फीसदी हिस्सेदारी है। यूपी गैस का बरेली, कानपुर, उन्नाव, झांसी में कारोबार है। महाराष्ट्र नैचुरल गैस में भी कंपनी की 50 फीसदी हिस्सेदारी है। नैचुरल गैस सस्ती होती है। आगे कंपनी की जबरदस्त क्षमता विस्तार की योजना है। देश में नैचुरल गैस की खपत महज 6 फीसदी है। 2030 तक देश में नैचुरल गैस की खपत 6 फीसदी से बढ़ाकर 15 फीसदी करने की तैयारी है। पेटकोक प्रोडक्ट पर सख्ती का फायदा आईजीएल को मिलेगा। आईजीएल ने 4 नई जगहों के लिए बोली जीती है।


हर्षदा सावंत के नए जमाने के एडवांस शेयर


एक्साइड


कंपनी इलेक्ट्रिक व्हीकल सेगमेंट की बड़ी खिलाड़ी है। इसने लीथियम आयन बैटरी बनाने के लिए स्विट्जरलैंड की कंपनी से करार किया है। ईवी सेगमेंट में एनर्जी स्टोरेट सिस्टम पर भी कंपनी काम कर रही है। गुजरात में कंपनी का नया प्लांट तैयार किया जा रहा है। कंपनी की 800 करोड़ रुपये निवेश करने की योजना है।


टीसीएस


टीसीएस ने डिजिटल फ्यूचर को पहले ही पहचान लिया है। डिजिटल बिजनेस की ग्रोथ के लिए कंपनी ने 4.0 स्ट्रैटेजी बनाई है। टीसीएस ने दुनियाभर में कई कंपनियों का डिजिटाइजेशन किया है। डिजिटल बिजनेस से कंपनी की आय 28 फीसदी हो गई है। कंपनी के डिजिटल बिजनेस की सालाना ग्रोथ 60 फीसदी हो गई है। ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी में जोरो से काम चल रहा है। कंपनी के 279,000 कर्मचारियों को डिजिटाइजेशन की ट्रेनिंग दी जा रही है।


हेमंत के नए जमाने के एडवांस शेयर


प्राज इंडस्ट्रीज


प्राज इंडस्ट्रीज बायो एनर्जी, एथनॉल, ब्रूवरीज की दिग्गज कंपनी है। कंपनी इंडस्ट्रियल वेस्ट ट्रीटमेंट की भी महारथी है। कंपनी को नई बॉयो पॉलिसी से बड़ा फायदा होने की उम्मीद है। इसको नई एथनॉल नीति का भी फायदा मिलेगा। शुगर कंपनियों का जोर एथनॉल क्षमता बढ़ाने पर है।


पेट्रोनेट एलएनजी


सरकार का गैस बेस्ड इकोनॉमी पर जोर है। कंपनी की गैस इंफ्रास्ट्रक्चर पर 13000 करोड़ रुपये का निवेश करने की योजना है। 2 नए एलएनजी टर्मिनल बनाने पर कंपनी 10000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। कंपनी ने इंद्रप्रस्थ गैस के साथ ज्वाइंट वेंचर भी किया है। 9200 करोड़ की लागत से सिक्किम, नॉर्थ ईस्ट में गैस ग्रिड बनाने की भी योजना है। नैचुरल गैस पेट्रोल के मुकाबले 60 फीसदी सस्ती है जिसका फायदा कंपनी को मिलेगा।