Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

Q2 में कैसे रहे नतीजे, जानिये कौन हुआ पास, कौन फेल

मंदी का माहौल हो तो कंपनियों के प्रदर्शन पर सबकी निगाहें टिकी रहती हैं।
अपडेटेड Nov 20, 2019 पर 10:11  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

कंपनियों के नतीजों को इकोनॉमी के बैरोमीटर के तौर पर देखा जाता है। खासकर जब मंदी का माहौल हो तो कंपनियों के प्रदर्शन पर सबकी निगाहें टिकी रहती हैं। चूंकि अब दूसरी तिमाही के नतीजों का मौसम खत्म हो चुका है। अब वक्त आ गया है कि हम कंपनियों के नतीजों के रिपोर्ट कार्ड पर चर्चा की जाए।


कौन से सेक्टर और कंपनियों ने बेहतर प्रदर्शन किया और कौन फिसड्डी साबित हुईं। हम ये समझने की कोशिश करेंगे कि क्या इस बार के नतीजों से इकोनॉमी में सुधार के संकेत दिख रहे हैं। इस खास चर्चा में सीएनबीसी-आवाज़ के साथ जियोजित फाइनेंशियल के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट गौरांग शाह और मोतीलाल ओसवाल के रिसर्च हेड गौतम दुग्गड़ जुड़े हैं। 


दूसरी तिमाही में निफ्टी की कुल 50 कंपनियों में से 17 कंपनियों ने अच्छा प्रदर्शन किया। जबकि 19 कंपनियों के प्रदर्शन इनलाइन रहे और 14 कंपनी ने कमजोर प्रदर्शन दिखाया।


सेक्टर अनुसार निफ्टी की कंपनियों पर नजर डालें तो ऑटो सेक्टर की Tata Motors, Bajaj Auto, Eicher Motors, Hero Motocorp,  M&M के नतीजे उम्मीद के अनुसार रहे जबकि Maruti के नतीजे खराब रहें।


बैंकिंग सेक्टर पर नजर डालें तो SBI, J Axis Bank, J ICICI Bank,   HDFC Bank के नतीजे इनलाइन रहें लेकिन IndusInd Bank और Kotak Bank के नतीजे खराब रहे।


इसके बाद आईटी सेक्टर की बात करें तो दूसरी तिमाही में HCL Tech, Tech Mahindra के नतीजे अच्छे, वहीं Infosys, Wipro के नतीजे इनलाइन और TCS के नतीजे खराब रहे।


मेटल कंपनियों की बात करें तो दूसरी तिमाही में Tata Steel, Hindalco, Vedanta के नतीजें इनलाइन रहे जबिक JSW Steel के नतीजे खराब रहे।


दूसरी तिमाही के नतीजे की दृष्टि से FMCG सेक्टर पर नजर डालें तो HUL, Britannia के नतीजे अच्छे रहे जबकि Nestle और ITC के नतीजे इनलाइन रहे।


ऑइल एवं गैस कंपनियों की बात करें तो Reliance के नतीजे अच्छे रहे वहीं ONGC के इनलाइन और BPCL, IOC, Gail के नतीजे खराब रहे।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।