Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

दिग्गज Brokerage Houses से जानिए किन शेयरों में बनेगा पैसा और बाजार पर नजरिया

आइए जानते हैं, आज किन शेयरों पर है दिग्गज ब्रोकरेज हाउसेज की नजर -
अपडेटेड May 06, 2020 पर 12:22  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

शेयर बाजार में तेजी और मंदी का दौर रहना आम बात है। किसी सेक्टर में कभी उछाल आता है तो उसी सेक्टर में दूसरे दिन गिरावट भी देखी जा सकती है। किसी भी शेयर में उछाल या गिरावट उस कंपनी के अपने प्रदर्शन के अलावा उस सेक्टर में आये हुए उतार-चढ़ाव पर भी निर्भर करता है। सरकारी घोषणाएं और नीतियां भी कंपनियों के शेयरों में तेजी और मंदी को प्रभावित करती हैं।


आम निवेशक इन सभी बातों को आपस में जोड़कर किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पाते हैं लेकिन बाजार में बैंठे हुए दिग्गज ब्रोकरेज हाउसेज इन सभी बातों पर नजदीकी नजर बनाये रखते हैं। ब्रोकरेज हाउसेज के एक्सपर्ट और विश्लेषक अपने अध्ययन और विश्लेषण से बाजार में हुए छोटे-बड़े बदलावों के आधार पर निवेशकों के लिए सलाह पेश करते हैं। वे अपनी सलाह में निवेशकों को बताते हैं कि किस शेयर में कितने दिनों के लिए निवेश करने से पैसा बनाया जा सकता है।


सीएनबीसी-आवाज़ आपके लिए रोजाना बड़े और दिग्गज ब्रोकरेज हाउसेज के निवेश टिप्स प्रस्तुत करते हैं जिससे आपको शेयरों पर निवेश करने की सटीक सलाह प्राप्त हो सके और आपको मुनाफा हो सके, तो जानते हैं कि भारत  के लॉकडाउन की स्थिति में आज किन शेयरों पर टिकी हैं दिग्गज ब्रोकरेज हाउसेज की नजर-


MS ने Adani Port पर ओवरवेट रेटिंग बनाये रखी है और लक्ष्य को 274 रुपये तय किया है।
 
JP Morgan ने Adani Port पर ओवरवेट रेटिंग दी है और लक्ष्य को 340 रुपये तय किया है।
 
MS ने SBI Life पर इक्वल-वेट रेटिंग दी है और लक्ष्य को 820 रुपये से घटाकर 755 रुपये तय किया है।
 
MS ने Jubilant Food पर ओवरवेट रेटिंग दी है और लक्ष्य को 1900 रुपये तय किया है।


MS ने Titan पर अंडरवेट रेटिंग दी है और लक्ष्य को 770 रुपये तय किया है।
 
MS ने ONGC पर अंडरवेट से अपग्रेड करके इक्वलवेट रेटिंग दी है और लक्ष्य को 72 रुपये से बढ़ाकर 84 रुपये तय किया है।


MS ने Oil India पर अंडरवेट से अपग्रेड करके इक्वलवेट रेटिंग दी है और लक्ष्य को 150 रुपये से घटाकर 100 रुपये तय किया है।


CLSA ने Autos पर राय देते हुए कहा है कि PV & 2-wheeler में रिकवरी आने पर लॉकडाउन के बाद भी 3 से 6 महीने लग सकते हैं। ज्यादातर डीलर को लगता है कि कमाई में कमी के चलते सालाना आधार पर वित्त वर्ष 21 में आय में 30 से 40 प्रतिशत की गिरावट देखने को मिल सकती है।


वित्तीय रूप से मजबूत डीलर भी आउटलेट की संख्या घटाने के बारे में सोच रहे हैं। वे इंडस्ट्री वाल्यूम पर सतर्क रहेंगे लेकिन उनकी प्राथमिकता PVs की तुलना में 2 व्हीलर होंगे।


CLSA ने Hero Moto को टॉप पिक बताया है।


CLSA ने  Maruti पर बिकवाली की रेटिंग दी है।


JP Morgan ने Vedanta पर ओवरवेट से डाउनग्रेड करके न्यूट्रल रेटिंग दी है और लक्ष्य को 125 रुपये से घटाकर 90 रुपये तय किया है।


JP Morgan ने HZL पर न्यूट्रल से अपग्रेड करके ओवरवेट रेटिंग दी है और लक्ष्य को 159 रुपये से बढ़ाकर 210 रुपये तय किया है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।