Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

मिडकैप में अब भी मौका, ये हैं लंबी अवधि के लिए बेहतरीन शेयर

कुछ शेयरों में अब भी काफी दम-खम बाकी है और कौन से हैं वो चुनिंदा शेयर।
अपडेटेड May 05, 2017 पर 13:06  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

पिछले 1 साल में बाजार ने जोरदार रिटर्न दिया है। सेंसेक्स और निफ्टी ने जहां 20-21 फीसदी की छलांग लगाई है, वहीं मिडकैप और स्मॉलकैप इंडेक्स में 40 फीसदी से ज्यादा का रिटर्न मिला है। जाहिर है इतनी तेजी के बाद अब निवेश के लिहाज से शेयर महंगे हो गए हैं। लेकिन कुछ शेयरों में अब भी काफी दम-खम बाकी है और कौन से हैं वो चुनिंदा शेयर, आपको यही बताने के लिए हमारे जाने-माने एक्सपर्ट्स लेकर आए हैं- मिडकैप के छुपे रुस्तम। हमारे साथ जुड़ रहे हैं इंडिया इंफोलाइन के संजीव भसीन, रेलिगेयर सिक्योरिटीज के आशु मदान और रिस्क कैपिटल एडवाइजर्स के डी डी शर्मा


इंडिया इंफोलाइन की पसंद


गुजरात पीपावाव


इंडिया इंफोलाइन के संजीव भसीन ने गुजरात पीपावाव में निवेश करने की सलाह दी है। संजीव भसीन के मुताबिक 1 साल की अवधि में गुजरात पीपावाव में 200 रुपये का स्तर देखने को मिल सकता है। संजीव भसीन ने बताया कि गुजरात पीपावाव कर्जमुक्त कंपनी है और विदेश में अच्छा कारोबार है। बाल्टिक इंडेक्स नई ऊंचाई पर है जिससे कंपनी को फायदा होगा।


इक्विटास


इंडिया इंफोलाइन के संजीव भसीन ने इक्विटास में निवेश करने की सलाह दी है। संजीव भसीन के मुताबिक 1 साल की अवधि में इक्विटास में 190 रुपये का स्तर देखने को मिल सकता है। संजीव भसीन ने बताया कि इक्विटास की हाउसिंग फाइनेंस सेगमेंट में उतरने की तैयारी है। साथ ही लागत कम होने से इक्विटास का मार्जिन बढ़ने की उम्मीद है।


डिश टीवी


इंडिया इंफोलाइन के संजीव भसीन ने डिश टीवी में निवेश करने की सलाह दी है। संजीव भसीन के मुताबिक 1 साल की अवधि में डिश टीवी में 120 रुपये का स्तर देखने को मिल सकता है। संजीव भसीन ने बताया कि डिश टीवी को डिजिटाइजेशन से काफी फायदा होगा। डिश टीवी के पास विस्तार के मौके ज्यादा हैं और कंपनी को रिलायंस जियो से ज्यादा चुनौती नहीं मिलेगी। डिश टीवी के विज्ञापन से होने वाली आय और सब्सक्रिप्शन में जोरदार बढ़त की उम्मीद है।



रेलिगेयर की पसंद


फोर्स मोटर्स


रेलिगेयर सिक्योरिटीज के आशु मदान ने फोर्स मोटर्स में निवेश करने की सलाह दी है। आशु मदान के मुताबिक 1 साल की अवधि में फोर्स मोटर्स में 5210 रुपये का स्तर देखने को मिल सकता है। आशु मदान ने बताया कि फोर्स मोटर्स मध्य प्रदेश के पीतमपुर में नया प्लांट लगाने पर 600 करोड़ रुपये निवेश करेगी। कंपनी मौजूदा प्लांट को अपग्रेड करेगी और नए प्रोडक्ट लॉन्च करेगी। प्रोडक्ट मिक्स में बदलाव से फोर्स के प्रॉफिट मार्जिन सुधरने की उम्मीद है।


सतलज टेक्सटाइल्स


रेलिगेयर सिक्योरिटीज के आशु मदान ने सतलज टेक्सटाइल्स में निवेश करने की सलाह दी है। आशु मदान के मुताबिक 1 साल की अवधि में सतलज टेक्सटाइल्स में 1032 रुपये का स्तर देखने को मिल सकता है। आशु मदान ने बताया कि सतलज टेक्सटाइल्स का राजस्थान यूनिट में क्षमता विस्तार पूरा हो गया है। कंपनी होम टेक्सटाइल्स में भी विस्तार पर कामकाज कर रही है। सतलज टेक्सटाइल्स को क्षमता विस्तार के साथ मांग बढ़ने का फायदा मिलेगा। सतलज टेक्सटाइल्स की आय में अगले 2 साल में अच्छी ग्रोथ की उम्मीद है।


बजाज फाइनेंस


रेलिगेयर सिक्योरिटीज के आशु मदान ने बजाज फाइनेंस में निवेश करने की सलाह दी है। आशु मदान के मुताबिक 1 साल की अवधि में बजाज फाइनेंस में 1421 रुपये का स्तर देखने को मिल सकता है। आशु मदान ने बताया कि बजाज फाइनेंस को रिटेल क्रेडिट डिमांड बढ़ने से अच्छा फायदा होगा। बजाज फाइनेंस का मार्जिन स्थिर है और रिटर्न रेश्यो काफी मजबूत है। बजाज फाइनेंस की कंज्यूमर ड्यूरेबल और लाइफस्टाइल सेगमेंट में अच्छी पकड़ है।



रिस्क कैपिटल की पसंद


टीटागढ़ वैगन्स


रिस्क कैपिटल एडवाइजर्स के डी डी शर्मा ने टीटागढ़ वैगन्स में निवेश करने की सलाह दी है। डी डी शर्मा के मुताबिक 2-3 साल की अवधि में टीटागढ़ वैगन्स में 400 रुपये का स्तर देखने को मिल सकता है। डी डी शर्मा ने बताया कि टीटागढ़ वैगन्स को मेक इन इंडिया पर सरकार के फोकस से फायदा होने की उम्मीद है। टीटागढ़ वैगन्स को मेट्रो और हाई स्पीड ट्रेन की बोगी के लिए बड़े ऑर्डर की उम्मीद है। कंपनी में एचडीएफसी म्युचुअल फंड की 9.5 फीसदी हिस्सेदारी है।


अटलांटा


रिस्क कैपिटल एडवाइजर्स के डी डी शर्मा ने अटलांटा में निवेश करने की सलाह दी है। डी डी शर्मा के मुताबिक 1 साल की अवधि में अटलांटा में 180 रुपये का स्तर देखने को मिल सकता है। डी डी शर्मा ने बताया कि अटलांटा को सरकार के नए आर्बिट्रेशन नियम से फायदा होगा। साथ ही कंपनी जल्द ही पूरी तरह कर्जमुक्त होने के कगार पर है। अगली कुछ तिमाही में नकदी और बढ़ने की उम्मीद है।


आरसीएफ


रिस्क कैपिटल एडवाइजर्स के डी डी शर्मा ने आरसीएफ में निवेश करने की सलाह दी है। डी डी शर्मा के मुताबिक 1 साल की अवधि में आरसीएफ में 120 रुपये का स्तर देखने को मिल सकता है। डी डी शर्मा ने बताया कि आरसीएफ को फर्टिलाइजर पर सब्सिडी का एलान होने पर अच्छा खासा फायदा होगा। साथ ही कंपनी के पास मुंबई के चेंबूर इलाके में 60,000 करोड़ रुपये के वैल्युएशन की जमीन है, और इस जमीन की बिक्री से भी काफी फायदा होने की उम्मीद है।