आगे कैसी रहेगी चाल, किन शेयरों पर करें फोकस -
Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

आगे कैसी रहेगी चाल, किन शेयरों पर करें फोकस

प्रकाशित Fri, 10, 2018 पर 16:06  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बाजार में गिरावट देखने को मिली है।  आगे कैसी रहेगी बाजार की चाल और कहां लगाना चाहिए दांव इस पर जानते हैं जानकारों की राय -


किरण जाधव डॉटकॉम के किरण जाधव का कहना है कि गेल के नतीजे अनुमान से बेहतर आए है। कंपनी ने अच्छा प्रदर्शन देखने को मिल रही है। इसमें 377 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ 385 रुपये के लक्ष्य के लिए खरीदारी की जा सकती है।


समर्थ कैपिटल के अनुज दीक्षित का कहना है कि हिडाल्को में इंट्राडे में बिकवाली देखने को मिली है। इसमें मौजूदा स्तर से 315 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ 330 रुपये के लक्ष्य के लिए खरीदारी की जा सकती है। यूनाइटेड ब्रेवरीज में मुमेटम बना हुआ है। इसमें 1230 रुपये के लक्ष्य के लिए खरीदारी की जा सकती है।


आईटीसी में साइडवेज मुमेटम के चलते ज्यादा तेजी देखने को नहीं मिल रही है, लेकिन इसमें 310 रुपये के स्तर को पार करता है तो 320 रुपये के लक्ष्य देखने को मिल सकते है। एमएंडएम में काफी तेजी देखने को मिली है। इसमें 940 रुपये के ऊपरी स्तर पर क्लोजिंग होती है तो इसमें 975 रुपये के लक्ष्य के लिए खरीदारी की जा सकती है।


जियोजित फाइनेंशियल के गौरांग शाह का कहना है कि यूनाइटेड ब्रेवरीज में तेजी का मुमेंटम बना हुआ है। इसमें मौजूदा स्तर से और भी तेजी की संभावनाएं बनी हुई है। लिहाजा इसमें लंबी अवधि का नजरिया रख खरीदारी की जा सकती है।गेल में सकारात्मक नजरिया बना हुआ है। इसके नतीजे अनुमान से बेहतर आये है। गेल, ओएनजीसी, एलएंडटी में आनेवाले दिनों में तेजी देखने को मिलेगी । लिहाजा इनमें लंबी अवधि के लिए खरीदारी करें।


प्रकाश गाबा डॉटकॉम के प्रकाश गाबा का कहना है कि मिश्र धातु में खरीदारी की जा सकती है। इसमें 160 रुपये के लक्ष्य हासिल हो सकते है। इसमें मौजूदा स्तर से खरीदारी की जा सकती है।


मार्केट एक्सपर्ट अजय बग्गा का कहना है कि एविएशन सेक्टर में जेट एयरवेज में खरीदारी ना करें। इस पूरे सेक्टर में वैल्यूएशऩ अच्छे है, लेकिन खर्च काफी होने के कारण मार्जिन पर दबाव बना रहता है।


पावरमायवेल्थ डॉटकॉम के संदीप वागले का कहना है कि आईओसी सीमित दायरे में कारोबार करता नजर आयेगा। लिहाजा इसमें किसी तरह की कोई रणनीति बनाने की सलाह नहीं होगी।