Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

हफ्ते की सुस्त शुरुआत, आगे किन शेयरों में दिखेगा जोश

हफ्ते के पहले कारोबारी दिन शेयर बाजार में हल्की बढ़त देखने को मिली है।
अपडेटेड Nov 28, 2016 पर 16:44  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

हफ्ते के पहले कारोबारी दिन शेयर बाजार में हल्की बढ़त देखने को मिली है। सेंसेक्स और निफ्टी मामूली बढ़कर बंद हुए हैं। निफ्टी 8100 के ऊपर टिका हुआ है, लेकिन बैंक शेयरों की जमकर पिटाई हुई है। बैंक निफ्टी 1 फीसदी से ज्यादा गिरकर 18300 के करीब बंद हुआ है, जबकि निफ्टी के पीएसयू बैंक इंडेक्स में 2.5 फीसदी की कमजोरी देखने को मिली है।


एल्टामाउंट कैपिटल मैनेजमेंट के मार्केट एक्सपर्ट प्रकाश दीवान का कहना है कि सराकर के रुख के बाद सरकारी कंपनियां पर काफी दबाव होने की गुजाइंश है। जिस तरह से लोगों को बोनस के एलानकी उम्मीद थी उस प्रकार ना करते हुए सरकार ने अपने फैसले को पूरा करने की कोशिश की है। ऑयल सेक्टर में लंबी अवधि का नजरिया रख दाव लगाना हो तो इस सेक्टर में ईआईएल काफी बेहतर है। जिसके चलते इसमें खरीदारी करने की सलाह होगी।


प्राइम मिनिस्टर गरीब कल्याण योजना के तहत मन इंफ्रा, एआरएसएस इंफ्रा जैसी कंपनियां अर्बन इंफ्रास्ट्रक्चर की रुप- रेखा बदल सकती है। लेकिन इनमें खरीदारी ना करते हुए एनसीसी, आईटीडी सिमीटेशन में खरीदारी करने की राय होगी। पावर ग्रिड में तेजी की संभावनाएं है लिहाजा इसमें खरीदारी की जा सकती है।


प्रिसिजन इन्वेस्टमेंट सर्विसेज के सीएमडी किरण जाधव का कहना है कि टाटा कम्यूनिकेशंस में तेजी देखने को मिल रही है और आनेवाले दिनों में यह तेजी बरकरार रहने की उम्मीद है। लिहाजा इसमें मौजूदा स्तर से लंबी अवधि के लिए 647 रुपय़े के स्टॉपल़ॉस के साथ खरीदारी करने की सलाह होगी। वहीं भारती एयरटेल में भी 312 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ 325-327 रुपये के लक्ष्य के लिए खरीदारी करने की सलाह होगी।


एचपीसीएल में 460 रुपये के स्तर से 470 रुपये के स्तर पर अच्छा सपोर्ट बना हुआ था जिसे एचपीसीएल ने पार किया है। आनेवाले दिनों में  इसमें काफी तेजी की उम्मीद है। लिहाजा इसमें 465 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ 500 रुपये के ऊपरी स्तर के लक्ष्य के लिए खरीदारी की जा सकती है। हिदुस्तान जिंग में खरीदारी का मौका 255 रुपये के स्तर पर था जिसके बाद इसमें काफी तेजी आई हैं। लिहाजा जिन निवेशकों ने इसमें खरीदारी की थी वह 274 रुपये ट्रेडिंग स्टॉपलॉस के साथ अपनी पोजिशन खड़ी कर सकते है।


मार्केट एक्सपर्ट निपुण मेहता का कहना है कि सीआरआर का इपेक्ट बैंकों पर छोटी अवधि के लिए हो सकता है। साथ ही बाजार उम्मीद कर रहा है कि आरबीआई पॉलिसी में कुछ बदलाव भी लाएं जाएंगे। हालांकि इसका असर प्राइवेट  सेक्टर औप पीएसयू बैंकिग सेक्टर पर देखने को मिल सकता है लेकिन इसका असर कितना होगा यह कहना मुश्किल है।


एफएमसीजी सेक्टर में गिरावट के बाद अब कुछ तेजी की उम्मीद है। हालांकि इनमें 25-30 फीसदी तक गिरावट देखने को मिली थी। लेकिन इस सेक्टर में हर गिरावट पर खरीदारी करने का बेहतर मौका है।


पावरमायवेल्थ डॉट कॉम के संदीप वागले का कहना है कि टाटा मोटोर्स, एमएंडएम इनमें ज्यादा मजबूती नजर नहीं आती है। हाल ही में एमएंडएम पर बिकवाली की सलाह दी थी। लेकिन टाटा मोटर्स में भी खरीदारी ना करने की सलाह होगी