Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

मुहूर्त ट्रेडिंगः बाजार का क्या होगा हाल, कौन से शेयर मचाएंगे धमाल

मुहूर्त ट्रेडिंग के खास मौके पर आपके कल को संवारने में आपकी मदद -
अपडेटेड Oct 30, 2016 पर 18:46  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

दिवाली के दीयों की तरह आपका जीवन भी जगमगाता रहे। आज मुहूर्त ट्रेडिंग के खास मौके पर सीएनबीसी-आवाज आपके कल को संवारने में भी आपकी मदद करता है। तो अगली दिवाली तक बाजार से कैसे रिटर्न मिलेंगे और ऐसे कौन से सेक्टर हैं जहां आपके निवेश से घर आएंगी लक्ष्मी। बाजार के दिग्गज जानकारों से ये जानने की कोशिश की गई है।


एचडीएफसी सिक्योरिटीज के सेल्स हेड पराग ठक्कर का कहना है कि मौजूदा समय में फेड रेट हाईक, यूएस प्रेसिडेट इलेक्शऩ जैसे तमाम फेक्टर्स ग्लोबल बाजार में काफी है। बावजूद उसके भारतीय बाजारों में बेहतर रिकवरी की उम्मीद है। भारतीय बाजारों में जीएसटी बिल, आरबीआई सपोर्ट और 7वें पे कमिशन, वहीं अच्छे मानसून के चलते भारतीय अर्छव्यवस्था के लिए आनेवाला समय में काफी बेहतर है। जिसके चलते प्राइवेट सेक्टर बैंक में जहां अंडर रेटिंग कॉल बेहतर हो जैसे कोटक महिंद्रा बैंक में निवेश किया जा सकता है।


लंबी अवधि के लिहाज से फेडरल बैंक,सिटी यूनियन बैंक, डीसीबी बैंक में अर्थव्यवस्था में सुधार के बाद बेहतर रिटर्न मिलने कीसंभावनाएं है। वहीं ऑटो सेक्टर में मारुति सुजुकी में खरीदारी की जा सकती है। अगर आईटी सेक्टर की बात की जाएं तो इंफोसिस, टेक महिंद्रा, में खरीदारी की जा सकती है।


मार्केट एक्सपर्ट प्रकाश दीवान का कहना है कि इंडेक्स के बेसस पर रिटर्न देखा जाएं तो महज 8-10 फीसदी तक का मुव देखने को मिला है। लेकिन यह पूरा साल बाजार में केवल शेयर ने बाजार को बढ़ाने में मदद की है। जिसके चलते अगर मौजूदा समय में निवेशक स्टॉक स्पेशिफिक मुमेंट रखते है तो मुहूर्त ट्रेडिंग के लिहाज से इनलिक्विड शेयर में ना करें। साथ ही अच्छे नतीजों वाली कंपनियों में निवेश करने की सलाह होगी। लिहाजा भारी गिरावट पर खरीदारी का मौका ना देखते हुए छोटे- छोटे गिरावट पर खरीदारी करते रहें।


प्रकाश दीवान के मुताबिक जिस प्रकार से रेडीमेंट गार्मेंट की ब्रिकी में तेजी देखने को मिली है उसके चलते आदित्य बिरला फैशन, अरविंद और ऑटो एंसलिरी सेक्टर मेंजीएनए एक्सेल में 300 रुपये के लक्ष्य के लिए खरीदारी की जा सकती है। वहीं फार्मा सेक्टर में विमता लैब्स में खरीदारी की जा सकती है।


मार्केट एक्सपर्ट निपुन मेहता के मुताबिक बाजार में खरीदारी के बेहतर मौके मिलेगे। पिछले 1 साल में भारतीय बाजार में ग्लोबल बाजारों के चलते काफी उतार- चढाव देखऩे को मिल सकती है।जिसके चलते बाजार में निचले स्तर पर खरीदारी का बेहतर मौका होगा।


आईआईएफएल प्राइवेट वेल्थ मैनेजमेंट की डायरेक्टर- इक्विटीज अनु जैन का कहना है कि बाजार में 9000 और इससे ऊपर के स्तर देखने को मिल रहे है जो मौजूदा समय में नजर भले ना आ सकें। लेकिन आनेवाले 3-4 महीने में बाजार में यह स्तर आसानी से दिख सकते है। पिछले 2-3 महीने से बाजार 8500-8620 के सीमित दायरे में ट्रेड कर रहा है।


अनु जैन के मुताबिक में गोदरेज इंडस्ट्रीज में मुहूर्त ट्रेडिंग के लिहाज से खरीदारी की जा सकती है।


बीएसई और एनएसई सदस्य दीपेन मेहता का कहना है कि इस दिवाली भी मिडकैप और स्मॉलकैप सेक्टर में तेजी देखने को मिलेगी। क्योंकि इस सेक्टर पर ही ग्रोथ इन्हीं पर देखने को मिल रही है। आईटी सेक्टर में इतनी ग्रोथ नजर नहीं आ रही है। पिछले साल के ट्रेर्डस इस संवत में होते नजर आयेगे।  ग्लोबल संकेतों पर खास नजर रखें। सीमेंट सेक्टर, एफएमसीजी सेक्टर, ऑटो सेक्टर में खरीदारी करें वहीं आईटी शेयरों से दूर रहने की सलाह  होगी।


मार्केट एक्सपर्ट उदयन मुखर्जी का कहना है कि आनेवाले साल घरेलू बाजार वसेस अंतराष्ट्रीय बाजार जैसे एक माहौल होगा। घरेलू बाजार में दूसरी तिमाही से इनकम में सुधार होने की उम्मीद है। इकोनॉमी ग्रोथ रिकवरी, अर्निंग ग्रोथ रिकवरी स्लो होने के बाद भी भारतीय बाजारों में तेजी की संबावनाएं है। लेकिन अंतराष्ट्रीय बाजार के लिए थोड़े दबाव के हो सकते है।


हेलियस कैपिटल के राहुल अरोड़ा का कहना है कि अगले 1 साल में निफ्टी 9000 के स्तर को पार करने में काफी जद्दोजहद करता नजर आएंगा। लेकिन अच्छे मानसून के बाद ट्रैक्टर रिकवरी में स्वराज टैक्टर्स, वीएसटी टेलर्स, एफएमजीसी में कोलगेट, सीमेट सेक्टर मेंजेके सीमेंट में खरीदारी की जा सकती है।


प्रकाशगाबा डॉट कॉम के प्रकाश गाबा का कहना है कि निफ्टी में 8550 के स्तर पर अहम सपोर्ट बना हुआ है। जब तक यह स्तर बरकरार है तब तक इसमें तेजी की उम्मीद है। अगर 8550 के स्तर को तोड़ता है तो इसमें काफी गिरावट देखने को मिलेगी।


एंजेल ब्रोकिंग के सीनियर रिसर्ज एनालिसिस प्रथमेश माल्या का कहना है कि गोल्ड ने इस साल 20 फीसदी तक का बेहतर रिटर्न दिया है। वहीं चांदी में भी 27 फीसदी तक के रिटर्न दिया है। गोल्ड और चांदी ने काफी अच्छा प्रदर्सन कर रहे है। हालांकि यूएस के चुनाव के नतीजें और यूएस फेडरल की बैठक का इनपर असर हो सकता है।  लिहाजा गोल्ड में 28000-28,5000 के स्तर पर खरीदारी की जा सकती है। वहीं चांदी में 40,000 के निचले स्तर पर खरीदारी करने की सलाह होगी।   


कोटक सिक्योरिटीज की दिवाली पिक्स


ऑलकार्गो लॉजिस्टिक्सः खरीदें, लक्ष्य 215 रुपये


डिश टीवीः खरीदें, लक्ष्य 110 रुपये


फिनोलेक्स इंडस्ट्रीजः खरीदें, लक्ष्य 530 रुपये