Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

बैसाखी के पटियाला शेयर जो देंगे दमदार रिटर्न

प्रकाशित Fri, 12, 2019 पर 13:22  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सीएनबीसी-आवाज़ दे सभी दर्शकां नू बैसाखी दियां लख-लख वधाइयां। पंजाबी विच कैंदे एं कि चंगी मत चाहो तां बुढ्ढे नु पुछन्न जाओ मतलब अगर अच्छी सलाह चाहिए तो किसी अनुभवी से बात कीजिए और आपका दोस्त सीएनबीसी-आवाज़ हमेशा आपको सही सलाह देने के लिए तैयार रहता है। आज बैसाखी के इस खास मौके पर आवाज़ की टीम आपके लिए लेकर आई है पटियाला शेयर।


आशीष दा पटियाला शेयर:यूनाइटेड स्पिरिट्स


यूनाइटेड स्पिरिट्स देश की दिग्गज शराब कंपनी है। कई प्रीमियम ब्रांड इसके पोर्टफोलियो में है। यूनाइटेड स्पिरिट्स ब्रिटिश कंपनी डियाजियो की सब्सिडियरी है। डियाजियो की आर्म रिले बीवी (Relay BV) की इसमें 54.78 फीसदी हिस्सेदारी है। कंपनी में एफआईआई की हिस्सेदारी 23 फीसदी है। 2014 में डियाजियो के पास पूरा कंट्रोल आ गया। कंपनी का 14 पावर ब्रांड्स स्ट्रैटेजी पर फोकस है। कंपनी की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट 88 से घटकर 58 हो गई हैं। कंपनी ने मास मार्केट से प्रीमियम पोर्टफोलियो पर फोकस शिफ्ट किया है। कंपनी की इंटरेस्ट कॉस्ट घटाने, नॉन-कोर एसेट बेचकर बैलेंसशीट सुधारने की कोशिश है। यहां इस शेयर में अच्छी बढ़त की उम्मीद है।


वरुण दा पटियाला शेयर: गोदरेज एग्रोवेट


गोदरेज एग्रोवेट गोदरेज ग्रुप की कंपनी है। ये डाइवर्सिफाइड एग्री कंपनी है। गोदरेज एग्रोवेट क्रॉप प्रोटेक्शन की बड़ी कंपनी है। ये पाम ऑयल बनाने में लीडर है। कंपनी पशु चारा, डेयरी प्रोडक्ट कारोबार में भी है। गोदरेज एग्रोवेट प्रोसेस्ड फूड बिजनेस में भी है।


नीरज दा पटियाला शेयर: आयशर मोटर्स


आयशर मोटर्स टू-व्हीलर और कमर्शियल गाड़ियां बनाती है। रॉयल इनफील्ड इसका जाना-माना ब्रांड है। बुलेट 40 देशों में एक्सपोर्ट होती है। ब्रिटेन और तमिलनाडु में कंपनी के प्लांट हैं। आयशर मोटर्स ने वॉल्वो और पोलारिस के साथ जेवी किया है। कंपनी ने पहला एग्री ट्रैक्टर भी बनाया। आयशर मोटर्स कर्ज मुक्त कंपनी है। इसमें 5 सालों में 45.31 फीसदी की मजबूत प्रॉफिट ग्रोथ देखने को मिली है। इसका आरओई का भी अच्छा ट्रैक रिकॉर्ड है। इसका 3 साल का आरओई 36.06 फीसदी रहा है।


हेमंत दा पटियाला शेयर: मारुति सुजुकी


मारुति सुजुकी देश की सबसे बड़ी पैसेंजर वाहन कंपनी है। पीवी सेगमेंट में कंपनी की 54 फीसदी बाजार हिस्सेदारी है। 36 साल पहले पहली मारुति 800 लॉन्च हुई थी। कंपनी रोजाना 4875 गाड़ियां बेचती है। ग्रामीण, सरकारी खर्च बढ़ने से कंपनी को फायदा होगा। 2003 में 125 रुपये के भाव पर कंपनी का आईपीओ आया था। 14 साल में इस शेयर ने 8000 फीसदी तक का रिटर्न दिया है। ऊपरी स्तरों से ये शेयर 28 फीसदी नीचे है।


प्रदीप दा पटियाला शेयर: आईसीआईसीआई बैंक


संदीप बक्शी के नेतृत्व में आईसीआईसीआई प्रू का एयूएम 2.5 गुना बढ़ा है। आईसीआईसीआई प्रू का एयूएम 57000 करोड़ रुपये से बढ़कर 1.4 लाख करोड़ रुपये हो गया है। बैंकिंग सेक्टर का बुरा दौर खत्म हो गया है। बैंक की सब्सिडियरीज का वैल्यूएशन में 100 रुपये प्रति शेयर का योगदान है। इसका वैल्यूएशन एडजस्टेज बुक का 1.8 गुना है।


हर्षदा दा पटियाला शेयर: महिंद्र एंड महिंद्रा


महिंद्र एंड महिंद्रा देश की ऑटो दिग्गज है ये एसयूवी, एलसीवी, ट्रैक्टर कारोबार की बड़ी खिलाड़ी है। एलसीवी सेगमेंट में कंपनी की 58 फीसदी बाजार हिस्सेदारी है। कंपनी ट्रैक्टर बाजार के 43.5 फीसदी हिस्से पर काबिज है। ये दुनिया की सबसे बड़ी फार्म टैक्टर मैन्युफैक्चरर है। महिंद्र एंड महिंद्रा 3 दशकों से देश के ट्रैक्टर बाजार की लीडर है। कंपनी का XUV 300 के साथ कॉम्पैक्ट एसयूवी का 15-20 फीसदी मार्केट शेयर पाने का लक्ष्य है। कंपनी का एसयूवी का मार्केट शेयर 25 फीसदी है। मॉर्गन स्टैनली ने वित्त वर्ष 20120 में मजबूत नतीजों की उम्मीद जताई है।