Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

इन शेयरों पर लगाएं दांव, नपे-तुले रिस्क से होगी भरपूर कमाई

मार्केट में कई ऐसे शेयर भी हैं, जिनमें RISK के बावजूद अच्छे रिटर्न की गुंजाइश होती है।
अपडेटेड Dec 07, 2019 पर 14:04  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

जिदंगी की तरह शेयर बाजार भी जोखिमों से भरा है। लेकिन शेयर मार्केट में अच्छे रिटर्न के लिए रिस्क तो लेनी ही पड़ती है। कहते हैं कि जोखिम के आगे ही मुनाफा होता है। मार्केट में कई ऐसे शेयर है जिसमें हाथ जलने का डर लगता है यानि निवेश के डूबने का बहुत ज्यादा खतरा होता है लेकिन इसी मार्केट में कई ऐसे शेयर भी हैं, जिनमें RISK के बावजूद अच्छे रिटर्न की गुंजाइश होती है। बस जरूरत उन शेयरों को सही से पहचानने की। आज इस खास पेशकश में हम उन शेयरों के बारे में बताएंगे जिनमें कम जोखिम से मोटा मुनाफा कमाया जा सकता है।


RBL BANK: क्या है RISK


इसकी एसेट क्वालिटी में तेज गिरावट देखने को मिली है। वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही के एसेट क्वालिटी गाइडेंस से चिंता बढ़ी है। Q2 Slippages तिमाही आधार पर 225 करोड़ रुपये से बढ़कर 1377 करोड़ रुपये रहा है। Q2 GNPA तिमाही आधार पर 1.38 फीसदी से बढ़कर 2.6 फीसदी रहा है। ग्रोथ में भी सुस्ती है, Q2 लोन ग्रोथ 27.5 फीसदी पर रही है। दूसरी तिमाही में 12 तिमाहियों में सबसे कम लोन ग्रोथ देखने को मिली है। लोन ग्रोथ पहली बार 30 फीसदी के नीचे है।


RBL BANK: क्या हैं TRIGGERS


RBL BANK के लिए ट्रिगर्स की बात करें तो उम्मीद से बेहतर ऑपरेटिंग परफॉर्मेंस और 12 तिमाहियों से मार्जिन में इजाफा इसके सबसे बड़े ट्रिगर हैं। Q2 NIM  तिमाही आधार पर 4.31 फीसदी से बढ़कर 4.35 फीसदी पर आ गई है। 2HFY20 में फंड जुटाने से ग्रोथ को सपोर्ट मिलेगा। बैंक नें 825 Cr के प्रेफरेंशियल शेयर जारी किए है। इस हफ्ते QIP के जरिए भी 2025 Cr जुटाए हैं।



BIOCON: क्या है RISK


Q2 में कंपनी के नतीजे अनुमान से कमजोर रहे हैं। बंगलुरू यूनिट के लिए USFDA के 6 आपत्तियां मिलीं हैं। R&D पर अधिक खर्च जारी और महंगा वैल्यूएशन।


BIOCON: क्या हैं TRIGGERS


ब्रोकर्स की खरीदारी की राय, US मार्केट में Neulasta के लिए 20 फीसदी मार्केट शेयर और नई इकाई को USFDA की मंजूरी मिली।


GODREJ PROPERTIES: खरीदें


GODREJ PROPERTIES देश की सबसे बड़ी रियल एस्टेट कंपनियों में शामिल है। गोदरेज समूह इसका प्रोमोटर है। कंपनी की स्थापना 1990 में हुई। इसने अब तक 17.5 Cr वर्ग फुट एरिया डेवलप किया है। कंपनी का बिजनेस मॉडल सुरक्षित है। बजट और मिड सेगमेंट में इसकी अच्छी पकड़ है। 2019-20 के पहले 6 महीने में इसने 9 प्राजेक्ट लॉन्च किए हैं। पहली छमाही में बुकिंग में 64 फीसदी की ग्रोथ देखने को मिली है। कंपनी पर सिर्फ 1089 Cr का कर्ज है।


GODREJ PROPERTIES: क्या है RISK


रियल एस्टेट मार्केट में नरमी है। इकोनॉमी में ग्रोथ आने तक नरमी रह सकती है। कई शहरों में इसकी भारी इंवेंट्री है। रोजगार की कमी से नए मकान नहीं बिक रहे। दिल्ली, मुंबई जैसे शहरों में ज्यादा ​दिक्कत है। लग्जरी रियल एस्टेट की हालत खस्ता है।


VEDANTA: खरीदें


VEDANTA में क्या हैं TRIGGERS


इसका सीएमपी 141 रुपये और 52 week high 214 रुपये। इसका पिछले 2 वर्षों का high 355 रुपये है। ये ग्लोबल कमोडिटी साइकिल का मजबूत खिलाड़ी है। एल्यूमीनियम, कॉपर, जिंक, ऑयरन ओर कच्चे तेल सहित सभी इंडस्ट्रियल मेटल्स की कीमतों में मजबूती लोट रही है जिसका फायदा वेदांता को मिलेगा।


VEDANTA में क्या हैं RISK


US-चीन ट्रेड वार्ता फेल हुई तो सभी कमोडिटी गिरेगी। ग्लोबल मंदी गहराई तो मेटल गिरेंगे।


TATA ELXSI: खरीदें


Tata Elxsi एक मिड कैप कंपनी है। जिसका मार्केट कैप 5298 करोड़ रुपये है। ये शेयर ने अपने 52 हफ्तों के हाई से 20 फीसदी नीचे कारोबार कर रहा है। इसका 52 हफ्तों का हाई 1045 रुपये है। कंपनी के पास 5.7 अरब रुपये मिड कैश है। कंपनी की बैलेंसशीट काफी मजबूत है। कंपनी की कुल आय में ऑटो सेक्टर का योगदान 60 फीसदी है। ग्लोबल स्तर पर ऑटो सेक्टर में ईवी और ऑटोनोमस व्हीकल की तरफ झुकाव बढ़ता दिख रहा है। कंपनी  इलेक्ट्रिक व्हीकल के विकास पर फोकस कर रही है। इसके लिए उसने कई कंपनियों के साथ करार भी किए है। इस करार के तहत सेक्टर स्पेशिफिक प्रोजेक्ट बनाए जाएंगे। आगे कंपनी के कारोबार में अच्छी बढ़त देखने को मिलेगी जिसका फायदा निवेशकों को मिलेगा।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।