Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

डिजिटल इंडिया के स्मार्ट शेयर जो करेंगे मालामाल

कैश की किल्लत डिजिटल इंडिया के लिए वरदान साबित हो रही है।
अपडेटेड Apr 20, 2018 पर 13:34  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

देश के कुछ इलाकों में कैश की किल्लत की खबरें हैं। कई जगहों के एटीएम पर नो कैश के बोर्ड लग गए हैं। कैश की इस किल्लत ने देश को डिजिटल इंडिया की तरफ एक कदम और बढ़ाने के लिए मजबूर कर दिया है। वैसे भी डिजिटल इंडिया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फेवरेट योजना है। सरकार काले धन को रोकने से लेकर कैश ट्रांजेक्शन को ट्रैक करने तक के लिए इसका इस्तेमाल करना चाहती है। ऐसे में डिजिटल इंडिया से जुड़ी किन कंपनियों के आए हैं अच्छे दिन इसी पर है सीएनबीसी-आवाज़ का ये खास शो डिजिटल इंडिया का दम।


कैश की किल्लत डिजिटल इंडिया के लिए वरदान साबित हो रही है। लगातार डिजिटल पेमेंट के आंकड़ों में उछाल दिख रहा है। सरकार एक नया पुश देने की भी तैयारी कर रही है। तो क्यों ना हम भी इस स्पेस में मौके ढूंढे, तो चलिए अगले आधे घंटे देश के 3 जाने माने एक्सपर्ट्स से जानेगे कौन सी कंपनियों को होगा फायदा और किन शेयरों में है खरिदारी के मौके। इस प्रयास में आवाज़ के साथ शामिल हो रहे हैं ज्वाइंड्रे कैपिटल के अविनाश गोरक्षकर, शेयरखान के संजीव होता और एचआरबीवी क्लाइंट सॉल्यूशंस के टी एस हरिहर


अविनाश गोरक्षकर की पसंद


स्टरलाइट टेक: खरीदें - 322 रुपये, लक्ष्य (12 महीनें) - 400 रुपये


स्टरलाइट टेक 4जी/एलटीई के लिए ब्रॉडबैंड इंफ्रास्ट्रक्चर बनाती है। चीन, ब्राजील, यूरोप में भी कंपनी का कारोबार है। स्मार्ट सिटी, भारतनेट जैसी योजना का फायदा कंपनी को मिलेगा। कंपनी की आय और मार्जिन में ग्रोथ आगे भी जारी रहेगी। वित्त वर्ष 2018-20 के दौरान कंपनी के मुनाफे में सालाना 30-33 फीसदी ग्रोथ संभव है।


टाटा कम्युनिकेशंस: खरीदें - 621 रुपये, लक्ष्य (12 महीनें) - 780 रुपये


टाटा कम्युनिकेशंस ग्लोबल टेलीकॉम सॉल्युशन कंपनी है जो 2000 मोबाइल कंपनियों, कॉर्पोरेट्स को सेवा देती है। इसके पास 5 लाख किमी सब-सी फाइबर का नेटवर्क है। डाटा की मांग बढ़ने के साथ कंपनी का कारोबार बढ़ा है।


क्विक हील: खरीदें - 316 रुपये, लक्ष्य (12 महीनें) - 400 रुपये


क्विक हील सॉफ्टवेयर सिक्योरिटी कारोबार में 30 फीसदी मार्केट शेयर रखती है। कॉर्पोरेट्स, एसएमआर समेत कई सरकारी कंपनियां इसकी ग्राहक हैं। कैशलेस इकोनॉमी, डिजिटल इंडिया का फायदा क्विक हील को मिलेगा।


संजीव होता की पसंद


कोटक महिंद्रा बैंक: खरीदें - 1155 रुपये, लक्ष्य (12 महीनें) - 1300 रुपये


संजीव होता के मुताबिक कोटक महिंद्रा बैंक को अकाउंट के जरिए डिजिटल बैंकिंग का फायदा होगा। मोबाइल वॉलेट, जीरो बैलेंस जैसी सुविधा दे रहे हैं। कंपनी की सब्सिडियरी में भी अच्छी ग्रोथ देखने को मिलेगी।


एलएंडटी इंफोटेक: खरीदें - 1392 रुपये, लक्ष्य (12 महीनें) - 1660 रुपये


अगले 2 साल में एलएंडटी इंफोटेक की आय में ग्रोथ इंडस्ट्री से ज्यादा रहने की संभावना है। डिजिटल की तरफ रुझान बढ़ने का कंपनी को फायदा मिलेगा। कंपनी के कारोबार में बीएफएसआई का 47 फीसदी योगदान है, कंपनी को रिकवरी का फायदा मिलेगा।


टी एस हरिहर की पसंद


टीवीएस इलेक्ट्रॉनिक्स: खरीदें - 487 रुपये, लक्ष्य (12 महीनें) - 730 रुपये


टी एस हरिहर का कहना है कि टीवीएस इलेक्ट्रॉनिक्स कैशलेस पेमेंट मशीन बनाने वाली एकमात्र लिस्टेड कंपनी है। टीवीएस ग्रुप की इस कंपनी को कैशलेस पेमेंट आने से फायदा मिला है। कंपनी आईटी प्रोडक्ट मैन्युफैक्चरिंग और डिस्ट्रिब्यूशन का काम करती है।


टीसीएस: खरीदें - 3190 रुपये, लक्ष्य (12 महीनें) - 3500 रुपये


टी एस हरिहर का कहना है कि वित्त वर्ष 2018 में डिजिटल सेगमेंट से कंपनी की आय सालाना आधार पर 35 फीसदी बढ़ी है। कंपनी की कुल आय में डिजिटल सेगमेंट का हिस्सा 22 फीसदी है।


बारट्रॉनिक्स इंडिया: खरीदें - 10 रुपये, लक्ष्य (12 महीनें) - 15 रुपये


बारट्रॉनिक्स इंडिया बार कोडिंग की सेवाएं देने वाली प्रमुख कंपनी है। कंपनी आरएफआईडी, स्मार्ट कार्ड, बायोमेट्रिक टेक्नोलॉजी सेवा भी देती है। अमेरिका, सिंगापुर और खाड़ी देशों में भी कंपनी का कारोबार है। बारट्रॉनिक्स इंडिया ने जन-धन योजना के तहत सरकार के साथ भी काम किया है।