Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

20 मई को खुलेगा देश में अब तक का सबसे बड़ा RIL का राइट्स इश्यू, जानिये कैसे करें निवेश

देश के सबसे बड़े RIGHT ISSUE यानी RIL के MEGA RIGHT ISSUE में निवेश का समय आ गया है। इसे लेकर निवेशकों में खासा उत्साह है।
अपडेटेड May 20, 2020 पर 10:45  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

देश के सबसे बड़े RIGHT ISSUE यानी RIL के MEGA RIGHT ISSUE में निवेश का समय आ गया है। इसे लेकर निवेशकों में खासा उत्साह है। पिछले 3 दशक में ये कंपनी का पहला राइट्स इश्यू है। जाहिर है कि निवेशकों के मन में कई सवाल होंगे। मसलन, RIGHT ISSUE का प्राइस क्या है,  INVESTMENT का PROCESS क्या है, कहां जाकर निवेश करना है, पैसा कितना दिन BLOCK रहेगा।


ऐसे ढेरों सवाल होंगे लेकिन अब आपकी ये उलझनें दूर होने वाली है, क्योंकि आज हम RIGHT ISSUE से जुड़े आपके तमाम सवालों के जवाब अपनी इस खास पेशकश में देंगे। सीएनबीसी-आवाज़ के साथ इस पेशकश में 5paisa.com के CEO Prakarsh Gagdani और शैल भटनागर मौजूद हैं।


RIL का राइट्स इश्यू


ये बुधवार 20 मई से खुलेगा। देश में अब तक का सबसे बड़ा राइट्स इश्यू है। हर 15 शेयरों में 1 शेयर मिलेगा। ये 53,000 करोड़ से ज्यादा का राइट्स इश्यू है। ये राइट्स इश्यू 1257 के भाव पर आ रहा है। RIL का राइट्स इश्यू 3 जून को बंद होगा।  इसका साइज 53125 करोड़ रुपये का है।


राइट्स इश्यू: कब-कब पेमेंट


इसके लिए अभी 25 प्रतिशत भुगतान करना होगा। इसके बाद 25 प्रतिशत का भुगतान मई 2021 में करना होगा। बाकी का 50 प्रतिशत का भुगतान  नवंबर 2021 में करना होगा।


राइट्स इश्यू पर हेल्पलाइन


इस इश्यू की जानकारी वेबसाइट: https://rights.kfintech.com पर प्राप्त की जा सकती है। इसके साथ ही Entitlement letter यहां से डाउनलोड कर सकते हैं। यहां पर मोबाइल नंबर और ई-मेल अपडेट करना होगा। ऑफर लेटर भी यहां से डाउनलोड कर सकते हैं। निवेशक वेबसाइट पर पेमेंट भी कर सकते हैं। 


RIL का शेयरहोल्डिंग पैटर्न (31 मार्च 2020 तक)


इसमें प्रोमोटर की 50.1 प्रतिशत हिस्सेदारी है। FIIs की बात करें तो इसमें इनकी 24.1 प्रतिशत हिस्सेदारी है। Mutual Funds की इसमें 5.42 प्रतिशत हिस्सेदारी है। वहीं बीमा कंपनियां इसमें 6.22 प्रतिशत हिस्सा रखती हैं जबकि रिटेल, HNI निवेशक की इसमें 7.94 प्रतिशत हिस्सेदारी है।


RIL के शेयरहोल्डर्स (31 मार्च 2020 तक)


31 मार्च 2020 तक RIL के कुल 26.32 लाख शेयरहोल्डर्स रहे हैं। इसमें 25.41 लाख रिटेल और HNI शेयरहोल्डर हैं।


राइट्स इश्यू के बैंकर्स


JM Financial


Kotak


Axis Cap


BNP Paribas


BoFA


CITI


Goldman Sachs


SBI Cap


JP Morgan


Morgan Stanley


HSBC


IDFC Sec


HDFC Bank


(डिस्क्लेमर: नेटवर्क 18 मीडिया एंड इनवेस्टमेंट लिमिटेड पर इंडिपेंडेंट मीडिया ट्रस्ट का मालिकाना हक है। इसकी बेनफिशियरी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज है।)


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।