Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

निवेश से पहले कंपनी को समझें, बनेगा पैसा

प्रकाशित Tue, 12, 2019 पर 12:51  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आपने सैफ अली खान की हाल में आई फिल्म बाजार का ये डायलॉग तो सुना होगा। मैं हूं धंधो नो गंदो छोकरो, धंधे में गंदगी यानी लालच और जब लालच किसी पर भी हावी हो जाए तब होता है हादसा यानी एक्सीडेंट। पिछले कुछ महीने में बाजार में इस तरह के एक्सीडेंट काफी बढ़ गए हैं और इसका सबसे ज्यादा नुकसान आम निवेशकों को होता है। कोई सपनीली कहानी को सही मानकर बरबाद हो गया तो कोई रेत के महल के नीचे दब गया। आज के इस खास शो एक्सीडेंट्स में बाजार में हुए हाल के हादसों पर बात करेंगे और समझने की कोशिश करेंगे की एक्सीडेंट की शिकार कंपनियों में अब क्या किया जाए।


संदीप जैन की पसंद


सन फार्माः उछाल पर निकलें (6-9 महीने), लक्ष्य 480 रुपये


टाटा मोटर्सः बने रहें (6-9 महीने), लक्ष्य 180 रुपये


एचईजीः उछाल पर निकलें (6-9 महीने), लक्ष्य 2660 रुपये


ग्रेफाइट इंडियाः उछाल पर निकलें (6-9 महीने), लक्ष्य 550 रुपये


जुबिलेंट फूडः मुनाफावसूली करें (6-9 महीने), लक्ष्य 1440 रुपये


गौरांग शाह की पसंद


यस बैंकः खरीदें (18-24 महीने), लक्ष्य 230 रुपये


वेदांतः खरीदें (18-24 महीने), लक्ष्य 250 रुपये


अपोलो हॉस्पिटल्सः खरीदें (18-24 महीने), लक्ष्य 1385 रुपये