Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

COVID-19 Package पर क्या कहते हैं दिग्गज ब्रोकरेज हाउसेस

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फरेंस करके सरकार की तरफ से COVID-19 राहत पैकेज का एलान किया।
अपडेटेड Mar 27, 2020 पर 16:56  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सरकार ने कोरोना के खतरनाक COVID-19 वायरस से निपटने के लिए लॉकडाउन, कर्फ्यू जैसे तमाम सख्त कदम उठाये हैं। देश को सरकार से इससे निपटने के लिए आर्थिक मोर्चे पर भी बड़े कदम  उठाने की अपेक्षा है जिसके  मुद्देनजर कल वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फरेंस करके सरकार की तरफ से COVID-19 राहत पैकेज का एलान  किया। इसका अपने स्तर पर अध्ययन  और विश्लेषण  करने के बाद देश और विदेश  के तमाम दिग्गज ब्रोकरेज हाउसेस ने इस पर अपनी राय व्यक्त की है।


CREDIT SUISSE


CREDIT SUISSE ने राहत PACKAGE पर कहा कि 1.7 लाख करोड़ के पैकेज में 60,000 करोड़ रुपये का नया खर्च है। इसमें 20,000 करोड़ के खर्च की फ्रंटलोडिंग की गई है। 21 दिन के लॉकडाउन से GDP ग्रोथ घटकर 4 प्रतिशत रह जाएगी। इसके आगे बिजनेस और फाइनेंशियल सिस्टम के लिए पैकेज आ सकता है। वहीं GDP के 3 प्रतिशत के बराबर के राहत पैकेज की और गुंजाइश भी बनी हुई है।


DB


DB ने COVID-19 PACKAGE पर कहा कि राहत पैकेज से Fiscal Deficit 5 प्रतिशत तक बढ़ सकता है। FY20 में रियल GDP ग्रोथ 4.2 प्रतिशत के मुकाबले 1.2 प्रतिशत रह सकती है। इसके अलावा RBI ब्याज दरों में 1 प्रतिशत की कटौती कर सकता है।


BARCLAYS


BARCLAYS ने COVID-19 Package पर कहा कि राहत पैकेज से वित्तीय घाटे पर 62600 करोड़ रुपये का दबाव संभव है। FY21 में वित्तीय घाटा GDP का 5 प्रतिशत संभव है। इसके अतिरिक्त भावित सेक्टर की मदद के लिए आगे और पैकेज संभव है।


JEFFERIES


JEFFERIES ने PACKAGE पर कहा कि सरकार ने उम्मीद से कम राहत पैकेज का एलान किया है। उम्मीद है कि आगे और आर्थिक पैकेज के एलान होंगे। इस पैकेज का 60 प्रतिशत हिस्सा नया  है और 1 लाख करोड़ का नया खर्च है। इस राहत पैकेज का फोकस गरीब आबादी पर है। इसके आगे मध्यम वर्ग के लिए पैकेज का एलान हो सकता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।