Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

मर्जर एंड एक्विजिशन वाली कंपनियों में क्या करें!

प्रकाशित Tue, 27, 2018 पर 13:14  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बाजार में आप वैल्यू अनलॉकिंग शब्द खुब सुनते होंगे। मकसद होता है कंपनी की छुपी हुई वैल्यू को खोजना ताकि प्रोमोटर और निवेशक दोनों मालामाल हो सकें। इसके लिए कंपनियां मर्जर, डी-मर्जर का ब्रह्मास्त्र चलाती हैं। कई बारी तो ये ब्रह्मास्त्र काम करता है और कंपनियों और निवेशकों के दिन फिर जाते हैं। लेकिन कई बार मर्जर, डी-मर्जर का दांव उल्टा पड़ता है और शेयर चारों खाने चित्त। यानी लेने के देने पड़ जाते हैं। कई बार मकसद निवेशकों को फायदा दिलाना होता है तो कई बार प्रोमोटर मर्जर, डी-मर्जर के बहाने अपनी जेब भरना चाहते हैं। इस शो में हम कुछ ऐसे ही मर्जर, डीमर्जर वाली कंपनियों की चर्चा करेंगे और समझेंगे कि उन कंपनियों में क्या रणनीती होनी चाहिए। हमारी मदद करने के लिए जुड़ रहे हैं अरिहंत कैपिटल के आशीष माहेश्वरी और ट्रेडस्विफ्ट ब्रोकिंग के संदीप जैन


सबसे पहले बात सीईएससी की, सीईएससी के मर्जर के तहत आरपी-एसजी रिटेल और आरपी-एसजी बिजनेस प्रॉसेस कारोबार अलग होगा। अरविंद के डीमर्जर के बाद 4 कंपनियां लिस्ट होंगी और डीमर्जर की एक्स डेट 28 नवंबर है। अरविंद के डीमर्जर से अरविंद, अरविंद फैशन, अरविंद स्मार्टस्पेस और अनूप इंजीनियरिंग 4 कंपनियां बनेंगी।


कैपिटल फर्स्ट और आईडीएफसी बैंक के बीच भी मर्जर का एलान हुआ है। मर्जर के तहत 10 कैपिटल फर्स्ट के शेयरों के बदले आईडीएफसी बैंक के 139 शेयर मिलेंगे। आईडीएफसी ने कैपिटल फर्स्ट को 41.5 अरब डॉलर में खरीदा है। भारत फाइनेंशियल और इंडसइंड बैंक के मर्जर का भी एलान हो चुका है। इंडसइंड बैंक ने भारत फाइनेंशियल को खरीदा है। भारत फाइनेंशियल के 1000 शेयरों के बदले इंडसइंड बैंक के 639 शेयर मिलेंगे।


देना बैंक, विजया बैंक और बैंक ऑफ बड़ौदा के विलय का एलान किया गया है। बैंक ऑफ बड़ौदा में देना बैंक और विजया बैंक को मिलाया जाएगा। मर्जर के बाद बना बैंक देश का दूसरा सबसे बड़ा बैंक होगा। 15 दिसंबर तक स्वैप रेश्यो तय करना है। गोदरेज एग्रोवेट और एस्टेक लाइफ के मर्जर का एलान हो चुका है। 10 एस्टेक शेयर पर गोदरेज एग्रोवेट के 11 शेयर मिलेंगे।


वोडाफोन और आइडिया ने मर्जर का एलान किया गया है। मर्जर के बाद बनने वाली कंपनी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी बन जाएगी। मर्जर के बाद आइडिया के शेयर की वैल्यू 72.5 रुपये प्रति शेयर आंकी गई है। नई कंपनी पर कुल कर्ज करीब 1 लाख करोड़ रुपये का होगा।



आशीष माहेश्वरी की पसंद


सीईएससी : खरीदें (2-3 महीने के लिए), लक्ष्य - 750 रुपये


अरविंद : खरीदें (2-3 महीने के लिए), लक्ष्य - 335 रुपये


भारत फाइनेंशियल : खरीदें (2-3 महीने के लिए), लक्ष्य - 1050 रुपये


इंडसइंड बैंक : खरीदें (2-3 महीने के लिए), लक्ष्य - 1700 रुपये


गोदरेज एग्रोवेट : खरीदें (2-3 महीने के लिए), लक्ष्य - 550 रुपये



संदीप जैन की पसंद


अरविंद : खरीदें (6-9 महीने के लिए), लक्ष्य - 360 रुपये


कैपिटल फर्स्ट : खरीदें (6-9 महीने के लिए), लक्ष्य - 670 रुपये


आईडीएफसी बैंक : खरीदें (6-9 महीने के लिए), लक्ष्य - 48 रुपये


देना बैंक : खरीदें (6-9 महीने के लिए), लक्ष्य - 18.9 रुपये


विजया बैंक : खरीदें (6-9 महीने के लिए), लक्ष्य - 51 रुपये


बैंक ऑफ बड़ौदा : खरीदें (6-9 महीने के लिए), लक्ष्य - 138 रुपये


आइडिया वोडाफोन : खरीदें (6-9 महीने के लिए), लक्ष्य - 54 रुपये