Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

गिरते बाजार में कहां मिलेगा कमाई का सही मौका

आज की गिरावट में निफ्टी 8500 के नीचे फिसल गया है, तो सेंसेक्स भी 27500 के नीचे आ गया।
अपडेटेड Nov 03, 2016 पर 16:41  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

शुरुआती कमजोरी के बाद बाजार ने संभलने की कोशिश जरूर की थी, लेकिन अंत में सेंसेक्स और निफ्टी गिरकर ही बंद हुए हैं। सेंसेक्स और निफ्टी करीब 4 महीने के निचले स्तरों पर बंद हुए हैं। वहीं इंफोसिस, विप्रो और सन फार्मा जैसे दिग्गज शेयरों ने 52 हफ्तों का निचला स्तर बनाया है।


आज की गिरावट में निफ्टी 8500 के नीचे फिसल गया है, तो सेंसेक्स भी 27500 के नीचे आ गया। आज के कारोबार में निफ्टी 8480 के नीचे फिसला, तो सेंसेक्स ने 27400 के तक गोता लगाया था। अंत में सेंसेक्स और निफ्टी 0.25 फीसदी से ज्यादा टूटकर बंद हुए हैं।


मनीलिशियस कैपिटल के अविनाश गोरक्षकर का कहना है कि लॉजिस्टिक्स शेयर में एक बार फिर से तेजी की उम्मीद की जा सकती है। जीएसटी की दरों के लागू होने के बाद सभी राज्यों में इसे इम्पिमेंट की प्रोसेस पर सभी की नजरें होगी। लिहाजा ऑलकार्गो, गति, स्नोमैन लॉजिस्टिक्स पर ध्यान देने की जरुरत है। ऑलकार्गो में आनेवाले समय में री-रिटिंग की संभावनाएं भी काफी है। जिसके चलते इसमें खरीदारी की जा सकता है।


जिन मिडकैप सेक्टर में प्राइसेस काफी बढ़ी है वहां पर मुनाफावसूली करने चाहिए। हालांकि अमेरिकी चुनावों को लेकर बाजार में और मिडकैप सेक्टर में अच्छी खासी पिटाई होने के आसार है। लिहाजा अमेरिकी चुनावों के नतीजों के बाद ही बाजार को सहीं दिशा मिलेगी। लेकिन जहां नतीजे बेहतर आये है और प्राइस में बढ़त देखऩे को मिली है वहां मुनाफावसूली होने की संभावनाएं रहेगी।


तिमाही दर तिमाही के आधार पर देखा जाएं तो पुष्कर केमिकल्स मिडकैप सेक्टर में काफी अच्छा परफार्मेंस दिया है। लिहाजा मौजूदा निवेशकों को इसमें बने रहने की सलाह होगी।


रिजल्ट के बाद अदानी पोर्ट में बिकवाली का दबाव देखऩे को मिला है। अगर छोटी अवधि का नजरिया रख निवेश करना सही नहीं होगा। इसमें 275 रुपये के स्तर से इसमें लंबी अवधि के लिए खरीदारी की जा सकती है।  


शेयरखान के सीनियर टेक्निकल एनालिस्ट जय ठक्कर का कहना है कि अंबुजा सीमेंट में गिरावट देखने को मिल रही है। हालांकि जो भी गिरावट देखी गई है वह बहुत ही कम है। इसमें 232 रुपये के स्तर पर सपोर्ट बना हुआ है। लिहाजा मौजूदा निवेशकों को इसमें 232 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ बने रहने की सलाह होगी। अगर किसी कारणवंश अंबुजा सीमेंट में 232 रुपये के निचले स्तर पर ट्रेड करता है तो इसमें बिकवाली करें।


इंडियाबुल्स रियल एस्टेट साइडवेज मुमेंटम क साथ ट्रेड कर रहा है। अगर इसमें किसी को शॉर्ट पोजिशऩ बनानी हो तो 77 रुपये के निचले स्तर पर कर सकता है। लिहाजा तब तक इसमें बने रहने की सलाह होगी।


डिफेस सेक्टर में तेजी की उम्मीद है। एचयूएल में कहीं ना कहीं अपने निचले स्तर को बरकरार ऱखने में कामयाब हो रहा है। लिहाजा इसमें 830 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ 860 रुपये के लक्ष्य के लिए इंट्राडे लिहाज से खरीदारी की जा सकती है।


मार्केट एक्सपर्ट का अजय बग्गा का कहना है कि अमेरिकी चुनाव में  दोनों ही उम्मीदावारों में कड़ी टक्कर है। तो फिलहाल कहना मु्किल होगा कि किस की जीत होगी। लिहाजा बाजार में अमेरिकी चुनावों के नतीजों से पहले बाजार में साइडवेज रहकर मुमेंटम की जा सकती है। अन्य़था नतीजों के बाद ही निवेश करने की सलाह होगी। डोनल्ड ट्रंप के जीत से बाजार में गिरावट आएंगी।


अगर हेलरी की जीत होती है तो बाजार में काफी तेजी देखने को मिलेगी। जिसके चलते शॉर्ट करना जोखिम होगा क्योंकि बाजार में काफी तेजी हो सकती है। वैसे भी बाजार में ट्रंप को लेकर नकारात्मक नजरिया आ गया है। नवंबर - दिसंबर में विदेशी निवेशक बिकवाली कर सकते है।