Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

बजट के बाद कौन सा सेक्टर दौड़ने को तैयार

बजट में कौन से बड़े एलान हो सकते हैं और उसके बाद किस सेक्टर की बल्ले-बल्ले होगी आइए जानते है-
अपडेटेड Jan 31, 2019 पर 13:34  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

मोदी सरकार की कल अग्निपरीक्षा है। उस पर करोड़ों उम्मीदों का दबाव है। चुनावी साल होने की वजह से सभी को लग रहा है कि सरकार उनके लिए सौगातों का पिटारा खोलेगी। किसी को कर्ज माफी की उम्मीद है तो किसी को टैक्स रियायतों की। मिडिल क्लास से लेकर यंग इंडिया तक, कॉरपोरट से लेकर किसान तक सब बजट पर टकटकी लगाए बैठे हैं। सरकार की भी कोशिश यही होगी की सभी के चेहरे पर मुस्कान लाई जाए ताकि आम चुनाव में उसे फिर से जनता का आशिर्वाद मिल सके। वैसे बजट का तगड़ा कमाई कनेक्शन भी है। बजट में कौन से बड़े एलान हो सकते हैं और बजट के बाद किस सेक्टर की बल्ले-बल्ले हो सकती है।


बजट में किसानों को बड़ी सौगात संभव है। किसानों के खाते में सीधा पैसा जायेगा और सस्ते में अनाज बेचने पर सरकार भरपाई करेगी। फसल बीमा योजना का प्रीमियम सरकार देगी। साथ ही किसानों को सस्ते में कर्ज मिलने की उम्मीद है, जिससे यूपीएल, बेयर क्रॉप, पीआई इंडस्ट्रीज, मानसेंटो जैसे शेयरों को फायदा मिल सकता है।


इन शेयरों में यूपीएल को सबसे ज्यादा फायदा हो सकता है। कंपनी खेती के लिए, बीज, खाद, केमिकल बनाती है। कंपनी का कारोबार देश और विदेश में है। हाल में कई कंपनी अधिग्रहण किए हैं। साथ ही अमेरिका की एरिस्टा लाइफ को खरीदा है। 5 साल से कंपनी का मुनाफा 22 फीसदी की दर से बढ़ रहा है।


वहीं टैक्टर सेगमेंट में एमएंडएम, एस्कॉर्ट्स और वीएसटी टिलर्स को फायदा होगा। इन शेयरों में एस्कॉर्ट को सबसे ज्यादा फायदा हो सकता है। कंपनी ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, रेलवे का कारोबार करती है। एग्री और रेलवे पर बजट एलान से फायदा होगा। कंपनी रेलवे के लिए कई तरह के काम करती है। कंपनी की बैलेंसशीट काफी मजबूत है और मैनेजमेंट को आगे भी तेज ग्रोथ का भरोसा जताया है। ट्रैक्टर ग्रोथ में सुस्ती के बावजूद भरोसा बना हुआ है।


बजट में मिडिल क्लास के लिए टैक्स छूट की सीमा बढ़ाई जा सकती है। जिससे सेक्शन 80सी का दायरा बढ़ सकता है और एनपीएस के तहत टैक्स छूट बढ़ाई जा सकती है। अगर ऐसा होता है तो एचयूएल, डाबर, ब्रिटानिया, गोदरेज कंज्यूमर जैसे शेयरों में तेजी देखने को मिलेगी।


इन शेयरों में ब्रिटानिया को सबसे ज्यादा फायदा हो सकता है क्योंकि कंपनी ने खराब वक्त में भी अच्छा प्रदर्शन किया है। इसमें 4 तिमाही से 10 फीसदी के ऊपर वॉल्यूम ग्रोथ देखने को मिली है। कंपनी अगले 1-2 महीने में कई नए लॉन्च करने जा रही है। बिस्किट मार्केट की हिस्सेदारी में आईटीसी, पार्ले के मुकाबले ब्रिटानिया में ज्यादा ग्रोथ देखने को मिल रही है।


वहीं ऑटो सेक्टर में हीरोमोटो, टीवीएस मोटर्स, बजाज ऑटो औरमारुति सुजुकी जैसे शेयरों में तेजी देखने को मिल सकती है। 



बजट में एलटीसीजी टैक्स हटाया जाता है तो कोटक महिंद्रा बैंक, एडेलवाइस, जेएम फाइनेंशियल जैसे शेयरों को फायदा मिलेगा। लेकिन इन शेयरों में कोटक महिंद्रा बैंक को सबसे ज्यादा फायदा हो सकता है क्योंकि एलटीसीजी हटा या एसटीटी कम हुआ तो  बाजार में तेजी आएगी। प्राइवेट बैंकों में तेजी दिख सकती है ऐसे में कोटक बैंक को मिलेगा बड़ा फायदा मिलेगा।


इधर बैंकों को अतरिक्त पूंजी मिली तो ओबीसी और बैंक ऑफ इंडिया को फायदा मिलेगा। ओबीसी लगातार दूसरी तिमाही में मुनाफा देखने को मिली है। बैंक के एनपीए में भी गिरावट आई है।