Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

इन शेयरों पर क्यों है ब्रोकरेज का अलग-अलग नजरिया, कमाई के लिए आपकी क्या हो रणनीति

बाजार की बाजी पलटने में देर नहीं लगती। बस एक अच्छी खबर का इंतजार है। समझदारी इसी में है अच्छे शेयरों में धीरे-धीरे खरीदारी की जाए।
अपडेटेड Aug 08, 2019 पर 20:06  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

BULL बेहाल है, BEARS के दांव से चारों खाने चित। बजट बाद से बुल्स को मानो सांप सूंघ गया है। हालत ये है कि अच्छे-अच्छे शेयर सस्ते दाम पर मिल रहे हैं लेकिन निवेशक अब भी दांव लगाने को तैयार नहीं है। इकोनॉमी में स्लोडाउन, ट्रेडवार, GEOPOLITICAL टेंशन सब बुरी तरह से सेंटिमेंट खराब कर रहे हैं। लेकिन ये भी सच्चाई है कि बुरे वक्त में हिम्मत दिखाने वाला ही विजेता बनता है। जंग अभी खत्म नहीं हुई है। बाजार की बाजी पलटने में देर नहीं लगती। बस एक अच्छी खबर का इंतजार है। समझदारी इसी में है अच्छे शेयरों में धीरे-धीरे खरीदारी की जाए। इस खास शो में यह जानते हैं कि BULL VS BEAR की लड़ाई में किन शेयरों की जीत होगी। इस खास शो में विभिन्न शेयरों पर सीएनबीसी-आवाज़ के साथ मार्केट एक्सपर्ट अंबरीश बालिगा और हेम सिक्योरिटीज की आस्था जैन चर्चा करेंगी।


HPCL की बात करें तो इसका वर्तमान भाव 245 रुपये हैं। सीएलएसए ने इसमें 210 रुपये के लक्ष्य के साथ बिकवाली की सलाह दी है। वहीं दूसरी तरफ यूबीएस ने इसी शेयर में 445 रुपये के लक्ष्य के साथ खरीदारी की सलाह दी है।


सीएलएसए ने कहा है कि कंपनी का प्रदर्शन उम्मीद से कमजोर रहा है। ग्लोबल रिफाइनिंग डिमांड को लेकर भी चिंता का माहौल है जबकि यूबीएएस का मानना है कि मार्केटिंग आय में रिकवरी से कंपनी को फायदा होगा।


NESTLE पर नजर डालें तो इसका वतर्मान मूल्य 11800 रुपये हैं। मॉर्गन स्टैनली इस शेयर में अंडरवेट रेटिंग देते हुए 8400 रुपये के लक्ष्य के साथ बिकवाली की सलाह दे रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ यूबीएस ने इसमें 13500 रुपये के लक्ष्य के साथ खरीदारी की सलाह दी है।


मॉर्गन स्टैनली का कहना है कि दूसरी तिमाही में ऑपरेटिंग मार्जिन कम रहना चिंता का कारण है जबकि यूबीएस का मानना है कि Distribution में सुधार से कंपनी को फायदा होगा।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (@moneycontrolhindi) और Twitter (@MoneycontrolH) पर फॉलो करें.