Moneycontrol » समाचार » टैक्स

पीपीएफ अकाउंट निवेश से कैसे दें बच्चों को सुरक्षित भविष्य

प्रकाशित Thu, 13, 2019 पर 12:37  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

टैक्स एक ऐसा शब्द है जिसे सुनते ही आम आदमी ही नहीं जानकार भी घबराने लगते हैं। कारण है कि आयकर कानूनों में इतने सारे पेंच है कि किसी के लिए भी इन्हें समझना टेढ़ी खीर साबित हो सकती है। इनकम टैक्स भरने का समय करीब आ रहा है जरुरी है कि आप इनसे जुड़े नियमों में बदलाव को जाने और समझें। ऐसे ही मौकों पर टैक्स गुरू अपनी जानकारी और अनुभव का खजाना लेकर आते हैं और करते हैं टैक्स से जुड़ी मुश्किलों को दूर। आज आपके टैक्स से जुड़े मुश्किल सवालों का जवाब देंगे टैक्स एक्सपर्ट मुकेश पटेल


पीपीएफ के जरिए कैसे टैक्सपेयर्स निवेश करके अपने बच्चों के लिए कैसे एक टैक्स फ्री सुरक्षा कवच बना सकते है ये बताते हुए टैक्स एक्सपर्ट का कहना है कि पीपीएफ यानि पब्लिक प्रोविडेंट फंड। बच्चे के जन्म के साथ ही पीपीएफ अकाउंट खुलवाएं। बच्चे के पीपीएफ अकाउंट में निवेश करने पर 4 बड़े फायदे होते है। मार्केट के उतार-चढ़ाव का कोई असर पीपीएफ अकाउंट में नहीं होता।


साल में न्यूनतम 500 रुपये से लेकर अधिकतम 1.5 लाख तक निवेश कर सकते है। पीपीएफ निवेश में 8 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है, वो भी टैक्स फ्री हो जाता है। सेक्शन 80C के तहत 1.5 लाख रुपये तक की टैक्स छूट मिलती है।


मुकेश पटेल के मुताबिक बच्चे के जन्म से लेकर 18 साल की उम्र तक हर साल 1.5 लाख रुपये जमा करें। 18 साल की उम्र तक 60 लाख रुपये की पूंजी जमा होगी। पीपीएफ राशि पर क्लबिंग नियम, इनकम टैक्स, गिफ्ट टैक्स नहीं लगेगा। पीपीएफ की राशि को जब्त नहीं किया जा सकता है। हर साल 1.5 लाख रुपये जमा होने पर 18 साल तक 27 लाख रुपये जमा होंगे। सेक्शन 80C में आने से 9 लाख रुपये की  टैक्स की बचत होगी और बच्चे के भविष्य के लिए 60 लाख रुपये इकट्टठे हो जाएंगे।