Moneycontrol » समाचार » टैक्स

इनकम टैक्स ने लॉन्च किया e-calculator, जानिए इसकी विशेषताएं

इनकम टैक्स विभाग ने नए टैक्स स्लैब के मुताबिक अपने टैक्स का आंकलन करने के लिए ई-कैलकुलेटर लॉन्च किया है।
अपडेटेड Feb 07, 2020 पर 10:35  |  स्रोत : Moneycontrol.com

अगर आप आप टैक्स रिटर्न फाइल कर रहे हैं। किसी तरह के कैलकुलेशन में समस्या आ रही है तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने रिटर्न फाइल करने के लिए ई-कैलकुलेटर (e-calculator) लॉन्च किया है।


इनकम टैक्स के अधिकारियों के मुताबिक अगर आपने नए बजट में टैक्स स्लैब के मुताबिक किसी भी प्रकार की डिडक्शन और छूट क अपना रिटर्न फाइल करने में मदद मिलेगी। इसमें कैलकुलेटर के साथ एक टेबल भी है। यह कैलकुलेटर पुराने और नए टैक्स व्यवस्था को देखते हुए एक टेबल के साथ है। जिसमें दोनों की तुलना करेगा। यह इनकम टैक्स की ई-फाइलिंग वेबसाइट में मौजूद है।


इस वेब पोर्टल में इंडिविजुअल और अन्य श्रेणी के लोग रिटर्न फाइल कर सकते हैं।
इनकम टैक्स फाइल करने के लिए नॉर्मल 60 साल से कम के लोग, सीनियर सिटीजन 60-79 साल के और सुपर सीनियर सिटीजन 79 साल के लोग अपना रिटर्न फाइल कर सकते हैं। इसमें टैक्सपेयर्स को सभी सोर्स से होने वाली सालाना इनकम, लिया जाने वाला डिडक्शन छूट को डालना होगा। इससे उनको पता चल जाएगा कि पुरानी व्यवस्था में रहने या नई व्यवस्था के चुनने पर कितना टैक्स देना होगा। यह कैलकुलेटर नई व्यवस्था में जितना टैक्स का प्रस्ताव दिया गया है उसमें टैक्स डिडक्शन और छूट को कैलकुलेशन करेगा।


बजट 2020 के बाद किस तरह की कटौती की जाएगी, कौन से लाभ मिलेंगे। ऐसे सभी सुविधाओं को ई-कैलकुलेटर में ध्यान रखा गया है। 


बता दें कि 1 फरवरी के पेश किए गए बजट में नए नियमों के मुताबिक 2.5 लाख से 5 लाख रुपये तक में 5 फीसदी टैक्स लगता है। इसी तरह टैक्सेबल इनकम 5 से 7.5 लाख है तो 10 फीसदी। 7.5 लाख से 10 लाख है तो 15 फीसदी। 10 लाख से 12.50 लाख रुपये तक में 20 फीसदी। 12.50 लाख से 15 लाख के बीच होने पर 25 फीसदी और 15 लाख से ऊपर इनकम पर 30 फीसदी टैक्स लगाया गया है। 


इसी तरह पुराने या मौजूदा इनकम टैक्स व्यवस्था में 1.5 लाख के निवेश में 50,000 रुपये तक की कटौती का दावा कर सकते हैं। इसमें भी 5 फीसदी, 10 फीसदी, 30 फीसदी के अलग-अलग इनकम लेवल पर निर्भर करता है।     


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।