Moneycontrol » समाचार » टैक्स

हाउस प्रॉपर्टी पर ज्वाइंट मालिकाना हक है तो नहीं भर सकेंगे ITR-1, जानिए क्या-क्या हैं नए बदलाव?

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के नियमों में कई बदलाव हुए हैं, जानिए आपको किन बातों पर ध्यान रखना है
अपडेटेड Jan 07, 2020 पर 09:04  |  स्रोत : Moneycontrol.com

इस साल से सरकार ने इनकम टैक्स (Income Tax) रिटर्न के फॉर्म में कई अहम बदलाव किए हैं। इन बदलावों के तहत किसी प्रॉपर्टी पर ज्वाइंट मालिकाना हक रखने वाले इनकम टैक्स रिटर्न ITR-1 के जरिए नहीं भर सकते हैं। अगर एक साल में किसी का बिजली बिल 1 लाख रुपए से ज्यादा है तो वो भी अब ITR-1 के जरिए रिटर्न फाइल नहीं कर सकता। एक नियम यह भी बदला है कि अगर कोई साल भर में विदेश यात्रा पर 2 लाख रुपए से ज्यादा खर्च करता है तो वह भी ITR-1 फॉर्म के जरिए रिटर्न फाइल नहीं कर सकता। इनकम टैक्स रिटर्न में ITR-1 सबसे आसान फॉर्म है।


सरकार आमतौर पर हर साल अप्रैल में इनकम टैक्स रिटर्न के फॉर्म से जुड़ी जानकारियां देती है। हालांकि इस बार सरकार ने असेसमेंट ईयर 2020-21 (इनकम अर्निंग ईयर 1 अप्रैल 2019 से 31 मार्च 2020 तक) के लिए 3 जनवरी को ही नए फॉर्म नोटिफाई कर दिया। 


ITR-1 फॉर्म के जरिए रिटर्न फाइल करना आसान है। लिहाजा जिन टैक्सपेयर की सालाना आमदनी 50 लाख  रुपए से कम है वो इस फॉर्म के जरिए इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करते हैं। जबकि ITR-4 सुगम फॉर्म HUF (हिंदू यूनाइटेड फैमिली) और कंपनियों (LLP को छोड़कर) के लिए है। जिन लोगों को बिजनेस या किसी प्रोफेशन से आमदनी होती है उन्हें भी ITR-4 फॉर्म भरना पड़ता है। हालांकि यह फॉर्म भरने के लिए भी जरूरी है कि सालाना आमदनी 50 लाख रुपए से कम हो। 


क्या हैं बदलाव?


नए नोटिफिकेशन के मुताबिक, ITR फॉर्म में इस बार दो बदलाव हुए हैं। पहला, अगर कोई टैक्सपेयर हाउस प्रॉपर्टी में ज्वाइंट मालिकाना हक रखता है तो वे लोग ना ही ITR-1 फॉर्म और ना ही ITR-4 भर सकते हैं।


दूसरा, अब वो लोग भी ITR-1 फॉर्म के जरिए रिटर्न नहीं फाइल कर सकते जिनके बैंक खाते में 1 करोड़ रुपए से ज्यादा रकम जमा है। साथ ही जो हर साल 2 लाख रुपए विदेश यात्रा या साल में 1 लाख रुपए बिजली बिल पर खर्च करते हैं।


ऐसे टैक्सपेयर्स को अब दूसरे फॉर्म के जरिए रिटर्न फाइल करना होगा। इन नए फॉर्म की जानकारी आगे आने वाले समय में मिलेगी। 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।