Moneycontrol » समाचार » टैक्स

रिटर्न के बाद है नोटिस आने का टेंशन, ऐसा पता करें नोटिस असली है या नकली

टैक्स एक ऐसा शब्द है जिसे सुनते ही आम आदमी ही नहीं जानकार भी घबराने लगते हैं।
अपडेटेड Aug 30, 2019 पर 09:12  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

टैक्स एक ऐसा शब्द है जिसे सुनते ही आम आदमी ही नहीं जानकार भी घबराने लगते हैं। कारण है कि आयकर कानूनों में इतने सारे पेंच है कि किसी के लिए भी इन्हें समझना टेढ़ी खीर साबित हो सकती है।


इनकम टैक्स भरने का समय करीब आ रहा है जरुरी है कि आप इनसे जुड़े नियमों में बदलाव को जाने और समझें। ऐसे ही मौकों पर टैक्स गुरू अपनी जानकारी और अनुभव का खजाना लेकर आते हैं और करते हैं टैक्स से जुड़ी मुश्किलों को दूर।


रिटर्न भरने की प्रक्रिया खत्म हो रही है। रिटर्न भरने के बाद नोटिस मिलने का सिलसिला शुरु होता है लेकिन टैक्सपेयर्स कैसे पहचाने की असली नोटिस कौन सी है? इस पर विस्तार से बात करते हुए कहा प्रीति खुराना का कहना है कि इनकम टैक्स विभाग ने नई व्यवस्था की शुरुआत की है यानी नोटिस असली या नकली जांचने के लिए ई- फाइलिंग वेबसाइट पर सुविधा की शुरुआत की है। अब आसानी से टैक्स के नोटिस की जांच की जा सकती है।


हर इनकम टैक्स नोटिस पर कंप्यूटर जेनरेटेड Unique Document Identification नंबर होगा। क्विक लिंक्स टैब के नीचे Authentication Tab टैब पर क्लिक करें। क्लिक करने पर Notice sent by the department के टैब पर क्लिक करें। डॉक्यूमेंट नंबर, PAN, एसेसमेंट ईयर, नोटिस सेक्शन, ईयर आफ इश्यू से सच पता लगेगा। आईटी विभाग की पुराने नोटिस को भी ऑनलाइन अपलोड करने की कोशिश करें। टैक्स प्रणाली में पारदर्शिता लाने और सेवा में सुधार के लिए फैसला किया गया है।